उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022: भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य पर दर्ज हुआ मामला

March 2nd, 2022

हाईलाइट

  • लोगों के सिर से बह रहा है खून
  • रोड शो के दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य के काफिले पर हमला

डिजिटल डेस्क, कुशीनगर। सपा उम्मीदवार स्वामी प्रसाद मौर्य की गाड़ी पर हुए हमले को लेकर उनकी बेटी और भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दरअसल स्वामी प्रसाद मौर्य के काफिले पर मंगलवार शाम एक रोड शो के दौरान हमला किया गया था।

भाजपा नेता दीपराज खरवार ने संघमित्रा मौर्य, उनके भाई अशोक मौर्य और 30 अन्य के खिलाफ दंगा करने और नकदी व सोने की चेन लूटने का मामला दर्ज कराया है। ये मामला एससी/एसटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया है। मंगलवार शाम को फाजिलनगर विधानसभा क्षेत्र में उस समय हिंसा भड़क गई थी, जब रोड शो के दौरान सपा प्रत्याशी स्वामी प्रसाद मौर्य के काफिले पर बदमाशों ने हमला कर दिया था। खालवा पट्टी गांव में हुए पथराव में पूर्व मंत्री के काफिले के कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए थे।

मौर्य ने जहां भाजपा समर्थकों पर उन्हें मारने के इरादे से हमला करने का आरोप लगाया, वहीं भाजपा नेताओं ने कहा कि मौर्य के समर्थकों ने हमले की शुरूआत की थी। बता दें कि यहां से सुरेंद्र सिंह कुशवाहा बीजेपी के उम्मीदवार हैं। हमले के बाद संघमित्रा मौर्य अपने पिता के समर्थन में सामने आईं और कहा, भाजपा शांति, दंगा मुक्त राज्य की बात करती है, लेकिन उसके उम्मीदवार ने मेरे पिता पर हमला किया, जो बाल-बाल बच गए थे। मैं फाजिलनगर के लोगों से अपने पिता के लिए मतदान करके अपना समर्थन दिखाने की अपील करती हूं। लोग 3 मार्च को भाजपा को सबक सिखाएंगे। यह पहली बार है, जब संघमित्रा ने अपने पिता की उम्मीदवारी का समर्थन किया है।

उन्होंने आगे कहा, मेरे पिता यह दावा नहीं कर रहे हैं कि उन पर हमला किया गया था। यह सड़क पर दिखाई दे रहा है। कारें कैसे टूटी हैं? लोगों के सिर से खून कैसे बह रहा है। लोगों के पैर कैसे टूट गए। मेरे पिता कैसे घायल हो गए? स्वामी प्रसाद मौर्य ने संवाददाताओं से कहा कि एक सुनियोजित साजिश के तहत, भाजपा के लोगों ने लाठी, डंडों, हथियारों और पत्थरों से सामूहिक हमला किया। मेरे ड्राइवर को चोटें आई और गिर गये। सैकड़ों वाहन टूट गए हैं। इसके साथ ही सैकड़ों कार्यकर्ता बुरी तरह घायल हो गए हैं।

 

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...