दैनिक भास्कर हिंदी: शेल्टर होम से 1072 लोग अपने-अपने घर रवाना, 227 जाना नहीं चाहते

May 8th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  मनपा के 20 शेल्टर होम में रखे गए 1448 बेघरों में से 1221 पने घर जाना चाहते थे। इसमें से 1072 लोग अपने घर के लिए रवाना हो गए। 227 लोग घर जाने के लिए इच्छुक नहीं है। 149 लोगों के अब भी अपने घर जाने का इंतजार है। उन्होंने मनपा प्रशासन से अपने घर लौटने की इच्छा जताई है। उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था में मनपा प्रशासन जुटा है। शेष के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई। 

15 अस्थायी शेल्टर होम
लॉकडाउन के चलते शहर में फंस गए प्रवासियों के रहने के लिए 15 अस्थायी शेल्टर होम खोले गए। मनपा प्रशासन ने स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से शेल्टर होम में रखे गए लोगों के नाश्ता, भोजन की व्यवस्था करा रही है। मनपा प्रशासन की ओर से स्वास्थ्य सेवा दी जा रही है। केंद्र सरकार से सफर की अनुमति मिलने पर उन्हें अपने घर लौटाने का सिलसिला शुरू हुआ है।

मनपा के  पांच स्थायी शेल्टर होम 
शहर में मनपा के पांच स्थायी शेल्टर होम हैं। यह शेल्टर होम उन्हीं के लिए बनाए गए हैं, जो रोजगार के लिए शहर में आए हैं, पर उनका अपना घर नहीं है। उन्हें रात भर आराम करने के लिए शेल्टर होम में सुविधा उपलब्ध कराई जाती है।
 

खबरें और भी हैं...