शिक्षा पर जोर: गड़चिरोली की 12 आश्रमशाला अब कहलाएगी ‘आदर्श आश्रमशाला’

November 25th, 2021

डिजिटल डेस्क , गड़चिरोली।  आदिवासी बहुल और नक्सलग्रस्त गड़चिरोली जिले में आदिवासी विकास विभाग के माध्यम से चलायी जा रहीं आश्रमशालाओं में लगातार घट रही विद्यार्थियों की संख्या को बढ़ाने के लिए सरकार ने आश्रमशालाओं का शिक्षा स्तर बढ़ाने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के तहत अब गड़चिरोली जिले की कुल 12 आदिवासी आश्रमशालाओं को आदर्श आश्रमशाला बनाने का फैसला लिया गया है। बुधवार को जारी एक शासनादेश के अनुसार इन आश्रमशालाओं में विद्यार्थियों के लिए निजी स्कूलों की तर्ज पर ई-लर्निंग के साथ वर्च्यूअल क्लास-रूम भी तैयार होंगे, जिसके माध्यम से विद्यार्थियों को अध्ययन के साथ लेखन, गायन, अभिनय, भाषण के अलावा अन्य विषयों की शिक्षा भी उपलब्ध करवायी जाएगी। बता दें कि, अादिवासी विकास विभाग के माध्यम से प्रदेश में कुल 497 आश्रमशालाओं का संचालन किया जा रहा है। जबकि गड़चिरोली जिले में विभाग के तीन प्रकल्प कार्यरत होकर इसमें गड़चिराेली, अहेरी व भामरागढ़ का समावेश किया है। इन प्रकल्पों में गड़चिरोली में सर्वाधिक 24, अहेरी 11 और भामरागढ़ में 8 ऐसे कुल 43 आश्रमशालाओं का समावेश है।