दैनिक भास्कर हिंदी: शहडोल जिले में घुसे छत्तीसगढ़ से आए 17 जंगली हाथी, लोगों में खौफ का माहौल

October 22nd, 2018

डिजिटल डेस्क, शहडोल। जिले में एक बार फिर छत्तीसगढ़ से हाथी घुस आए हैं। हाथियों के झुंड को देखकर लोगों के होश उड़ गए। झुंड में करीब 17-18 हाथी हैं। फिलहाल ये हाथी केशवाही होते हुए जैतपुर के जंगलों में पहुंच गए हैं।  क्षेत्र में हाथियों की दस्तक से लोगों में दहशत का माहौल है, क्योंकि जंगली हाथी का मूड कब खराब हो जाए, अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। इधर, हाथियों के जिले की वन सीमा में प्रवेश करने की सूचना के साथ ही वन अमला अलर्ट हो गया है। हाथियों पर 24 घंटे निगरानी रखी जा रही है। 22 अक्टूबर को हाथियों की लोकेशन ग्राम बहगड़ के समीप जैतपुर के जंगल के अंदर कक्ष क्रमांक 872 देखी गई है। हाथी लगातार चलायमान हैं।

उम्मीद की जा रही है कि जिस तरह हाथियों का झुंड आगे बढ़ रहा है, वह एक-दो दिन के भीतर छत्तीसगढ़ में चला जाएगा। इस बार झुंड में 17-18 हाथी हैं। गौरतलब है कि पिछले माह ब्यौहारी के पास बुढ़वा के जंगल में घुसे हाथियों ने काफी उत्पात मचाया था। कई घरों में तोडफ़ोड़ की थी। हाथियों के हमले में एक वृद्ध की मौत भी हो गई थी।

दो अलग-अलग टीमें लगीं
बताया जाता है कि हाथियों की निगरानी में दो अलग-अलग टीमें लगाई गई हैं। एक टीम हाथियों पर 24 घंटे नजर बनाए हुए है। इसमें जैतपुर, केशवाही, बुढ़ार रेंज का अमला लगा हुआ है। वहीं एक टीम आसपास के गांवों में लोगों को अलर्ट कर रही है। वन अमले की कोशिश है कि अगर रिहायशी इलाकों में हाथी आएं तो लोग पहले से ही सजग रहें।

2014 में भी इसी रूट से आए थे
वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह हाथियों का पुराना रूट है। हाथी छत्तीसगढ़ के मरवाही की तरफ से आए हैं। चार साल पहले 2014 में भी हाथियों का झुंड इसी रूट से आया था और छत्तीसगढ़ के जंगलों में वापस चला गया था। इस बार भी जिस तरह से हाथी आगे बढ़ रहे हैं उम्मीद की जा रही है कि छत्तीसगढ़ चले जाएंगे।

ब्यौहारी में मचाया था उत्पात
पिछले माह ब्यौहारी में बुढ़वा के पास सतनी गांव में हाथियों ने काफी उत्पात मचाया था। करीब आधा दर्जन घरों में तोडफ़ोड़ की थी। एक बार वन विभाग की टीम ने उन्हें खदेड़ दिया था, लेकिन दो दिन बाद फिर से हाथी गांव में घुस आए और एक वृद्ध को कुचल दिया था। बाद में हाथियों को ट्रैंकूलाइज करके बांधवगढ़ में शिफ्ट किया गया था। उस घटना के बाद से लोगों में हाथियों को लेकर दहशत है।

इनका कहना है
छत्तीसगढ़ के मरवाही की तरफ से हाथियों का झुंड जिले में पहुंचा है। वन विभाग की टीमें हाथियों पर नजर रखे हुए हैं। साथ ही आसपास के गांवों में भी लोगों को अलर्ट किया जा रहा है।
प्रदीप मिश्रा, डीएफओ साउथ शहडोल