दैनिक भास्कर हिंदी: जलप्रदूषण टालने शहर भर में 247 कृत्रिम टैंक, गांधीसागर, सक्करदरा, सोनेगांव तालाब में विसर्जन बंद

September 22nd, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। बाप्पा अब विदाई लेने की तैयारी में है। रविवार यानी अनंत चतुदर्शी के दिन गणेश भक्त गाजे-बाजे के साथ बाप्पा को विदाई देंगे। ऐसे में शहर के तालाबों पर विसर्जन के लिए पर्याप्त सुविधाओं के साथ तगड़ा पुलिस बंदोबस्त भी लगाया गया है। जल प्रदूषण टालने के लिए नागपुर महानगरपालिका द्वारा जगह-जगह कृत्रिम तालाब लगाए गए हैं। अब तक इन तालाबों में डेढ़ दिन, तीन दिन, पांच दिन, सात दिन के गणेश मूर्ति का बड़े पैमाने पर विसर्जन किया गया है। नागपुर महानगरपालिका की ओर से 10 जोन में लगभग 247 कृत्रिम रबर टैंक तैयार किए गए है।

गांधीसागर तालाब, सक्करदरा तालाब और सोनेगांव तालाब में गणपति विसर्जन को पूरी तरह बंदी है। इन स्थानों पर बड़े कृत्रिम तालाब और रबर टैंक तैयार किए गए हैं। इन तालाबों में अब तक बड़े पैमाने पर घरेलू गणेश मूर्ति का विसर्जन किया गया है। इसके अलावा तालाब परिसर में जगह-जगह निर्माल्य कलश का भी प्रबंध किया गया है। गौरतलब है कि गणेश विसर्जन के लिए पिछले साल शहर में 234 कृत्रिम टैंक लगाए गए थे। इस साल 247 कृत्रिम टैंक की व्यवस्था की गई है। फिलहाल मनपा के पास 50 पुराने और 115 नए कृत्रिम टैंक उपलब्ध है। इसके अलावा सभी तालाबों में सीमेंट के कृत्रिम तालाब तैयार किए जा रहे हैं। इसी तरह अनेक जगहों पर गड्ढे खुदाई कर कृत्रिम तालाब की व्यवस्था की जाएगी।
 

1153 सार्वजनिक मंडलों ने ली अनुमति

वैसे शहर में गणेश स्थापना का आंकड़ा काफी बड़ा है। लेकिन आधिकारिक रूप से शहर में 1153 सार्वजनिक गणेश मंडलों ने मनपा व पुलिस से अनुमति ली है। इसके अलावा गल्ली और बस्तियों में बैठने वाले गणपति बैठाने वाले गणेश मंडलों की संख्या बड़े पैमाने पर है।

 
ग्रीन विजिल को छोड़ तालाब से अन्य संस्थाएं नदारद

फुटाला तालाब पर वायुसेना मार्ग पर हो रहे गणेश मूर्ति का विसर्जन कृत्रिम तालाब में हो, इसके लिए ग्रीन विजिल फाउंडेशन के स्वयंसेवक सेवा दे रहे हैं। पहले दिन से वे इस तालाब पर सेवा दे रहे हैं। मूर्ति विसर्जन के लिए आने वाले गणेश भक्तों को कृत्रिम तालाब में गणेश मूर्ति विसर्जित करने के लिए तैयार कर रहे हैं। निर्माल्य कलश में निर्माल्य डालने के लिए उनका आग्रह है। ग्रीन विजिल फाउंडेशन के संस्थापक कौस्तुभ चटर्जी ने दी जानकारी अनुसार फुटाला तालाब के वायुसेना मार्ग पर 14 सितंबर को 271, 15 सितंबर को 165, 16 को 85, 17 को 610, 17 को 610, 18 को 97, 19 को 244, 20 को 62, 21 को 200, कुल 1734 गणेश मूर्ति का विसर्जन हुआ। आज तक इसी जगह 18 टन निर्माल्य संकलन करने की जानकारी है। फिलहाल ग्रीन विजिल को छोड़ दिया जाए तो अन्य संस्थाएं अब तक तालाबों पर नहीं दिखी। अंतिम दिन इन संस्थाओं द्वारा सेवा दी जाएगी। स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रदीप दासरवार ने कहा कि यह संस्थाएं विविध स्थानों पर भक्तों को मार्गदर्शन करेगी। निर्माल्य कलश में निर्माल्य दान करने के लिए और कृत्रिम तालाब में मूर्ति विजर्सन करने के लिए निवेदन करेगी।


 
यहां इतने लगेंगे कृत्रिम टैंक

लक्षमीनगर जोन में -31

धरमपेठ जोन में- 26

हनुमाननगर जोन में -29

धंतोली जोन में- 34

नेहरूनगर जोन में -48

गांधीबाग जोन में -19

सतरंजीपुरा जोन में -12

लकडगंज जोन में -25

आशीनगर जोन में -08

मंगलवारी जोन में -15 

 

खबरें और भी हैं...