दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर पहुंचा 3 करोड़ 44 लाख किलो गेंहूू ,35 लाख 49 हजार किलो चावल

April 29th, 2020

डिजिटल डेस्क,, नागपुर। लॉकडाउन को देखते हुए केंद्र सरकार से मई व जून महीने के लिए 3 करोड़ 44 लाख 26 हजार किलो गेंहू नागपुर पहुंच गया है। अजनी स्थित भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के गोदामों में यह सरकारी गेंहू रखा गया है। इसके अलावा 35 लाख 49 हजार 605 किलो चावल भी पहुंच गया है। राज्य सरकार के खाद्यान्न विभाग की तरफ से 1 करोड़ 73 लाख 8 हजार 80 किलो गेंहू अभी तक उठाया गया है। इसके अलावा 11 लाख 75 हजार 50 किलो चावल भी उठाया गया है। 

कोरोना संक्रमण के कारण लाकडाउन जारी है और इसे देखते हुए मई व जून महीने में अंत्योदय व प्राधान्य गट के कार्ड धारकों के अलावा केशरी कार्ड धारकों को भी गेंहू-चावल देने का निर्णय सरकार ने लिया है। केंद्र सरकार ने नागपुर शहर व ग्रामीण (जिले) के लिए 3 करोड़ 44 लाख 26 हजार किलो गेंहूू जारी किया है। यह गेंहू नागपुर के अजनी स्थित भारतीय खाद्य निगम के गोदामों में पहुंच चुका है। इसी तरह 35 लाख 49 हजार 605 किलो चावल भी पहुंच गया है। यह सारा अनाज अंत्योदय, प्राधान्य व केशरी कार्ड धारकों को 2 रुपए किलो गेंहू व 3 रुपए किलो चावल के हिसाब से वितरित करना है। वितरण की जिम्मेदारी राज्य के खाद्यान्न विभाग की है। खाद्यान्न विभाग ने अब तक 1 करोड़ 73 लाख 8 हजार 80 किलो गेंहू उठाकर अपने गोदामों में जमा कर दिया है। इसी तरह 11 लाख 75 हजार 50 किलो गेंहू भी एफसीआई से लाकर अपने गोदामों में जमा किया गया है। 
 
अप्रैल में बांटा गया 93 लाख किलो से ज्यादा गेंहू 

एफसीआई की तरफ से अप्रैल महीने में नागपुर जिले में खाद्यान्न विभाग को 93 लाख 6 हजार किलो गेंहू दिया गया। खाद्यान् विभाग ने राशन दुकानों के माध्यम से अंत्योदय व प्राधान्य गट के कार्ड धारकों को यह गेहू वितरित किया। जरूरतमंदों को चावल भी दिया गया, लेकिन राज्य सरकार ने स्टेट फूल (अपने कोटे) से बांटा। 
  
5 महीने तक का अनाज का स्टॉक है जमा 
एफसीआई के नागपुर गोदामों में 5 महीने तक का अनाज का स्टाक जमा है। यहां से नागपुर जिले के लिए अनाज का वितरण होता है। मई व जून महीने का अनाज यहां उपलब्ध है आैर इसका वितरण भी शुरू हो गया है। 1 करोड़ 73 लाख 8 हजार 80 किलो गेहू खाद्यान्न विभाग को दिया गया है। शेष बचा अनाज भी वितरित किया जा रहा है। केंद्र से अनाज का जितना कोटा आया, उतना नागपुर जिले को दिया जा रहा है। 
-बी. राऊत, विभागीय प्रबंधक, एफसीआई नागपुर.