दैनिक भास्कर हिंदी: 10 लोगों से भरी नाव पलटी, पिता-पुत्र समेत 3 की मौत, 7 को बचाया

November 24th, 2018

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। जिले के खैरलांजी थाना अंतर्गत बहने वाली वैनगंगा नदी में डूबने से पिता, पुत्र सहित एक 14 वर्षीय बालिका की मौत हो गई।  डेढ़ वर्षीय मासुम अक्षय पिता आशीष मारबोदे का शव बीती रात को ही बरामद कर लिया गया था। आज 24 नवंबर की सुबह नदी में चलाये गये गोताखोरो के रेस्क्यु अभियान के बाद 30 वर्षीय आशीष पिता अशोक मारबोदे और 14 वर्षीय बालिका शीतल पिता कोमल बागड़े का शव बरामद किया गया।

मेले में जा रहे थे महाराष्ट्र
बताया जाता है कि मृतक मासूम अक्षय और आशीष मारबोदे पिता, पुत्र थे। जो महाराष्ट्र के मौदा चाचेर के रहने वाले थे। जबकि बालिका शीतल टेमनी निवासी थी। टेमनी निवासी बागड़े परिवार के लगभग 10 लोग टेमनी गांव के पास से होकर जाने वाली वैनगंगा नदी के दूसरे छोर पर बसे महाराष्ट्र अर्जुनी के गोंडरानी टोला के राममंदिर में कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर भरने वाले गोंडरानी मेले में शामिल होने नदी से नाव में बैठकर गये थे। चूंकि अन्य रास्ते से वहां तक पहुंचाने के लिए 5 किलोमीटर का फेरा होता है जबकि नदी से महज एक किलोमीटर का रास्ता है। जिसके बाद शाम लगभग 5-6 बजे के बीच परिवार के सभी लोग गांव लौट रहे थे। इस दौरान ही नदी में नाव के पलट जाने से उसमें सभी लोग नदी में डूबने लगे। जिसमें 7 लोगों को तो बचा  लिया गया किन्तु अक्षय, आशीष और शीतल का कोई पता नहीं चल सका था।

जिसके बाद नदी में लापता लोगों को तलाशे जाने के बाद शाम को मासुम अक्षय का शव मिला। जबकि आशीष और शीतल का कोई पता नहीं चल सका था।पुलिस ने शवों को बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सालय भिजवाया जहां शवों का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। टेमनी सरपंच वासनिक की मानें तो सड़क मार्ग के फेरे से बचने के लिए परिवार के लोग नदी से महाराष्ट्र अर्जुनी के गोंडीटोला के राममंदिर के पास भरने वाले मेले में शामिल होने गये थे। जब लौट रहे थे, तब वह हादसे का शिकार हो गये।

इनका कहना है
खैरी और भौरगढ़ के बीच टेमनी के पास से होकर बहने वाली वैनगंगा नदी में बीते दिवस एक नाव के पलट जाने से उसमें बैठे 10 लोग में 3 लोगों की मौत हो गई। जबकि शेष अन्य लोगों को बचा लिया गया था। पुलिस ने सभी शव बरामद कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।
निर्मल श्रीवास, थाना प्रभारी, खैरलांजी थाना