comScore

गड़चिरोली जिले में क्वारटाइन सेंटर से 45 मजदूर भागे

गड़चिरोली जिले में क्वारटाइन सेंटर से 45 मजदूर भागे

डिजिटल डेस्क, गड़चिरोली। तहसील मुख्यालय से 10 किमी. दूर स्थित ग्राम येवली के साईंबाबा विद्यालय के संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर में पिछले 11 दिन से रह रहे 45 मजदूर सेंटर छोड़ भाग निकले। बताया जाता है कि येवली निवासी ये मजदूर तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में मिर्च तोड़ने के लिए गए थे। लॉकडाउन के कारण काम बंद रहने से सभी मजदूर गांव में लौट आए। तहसील प्रशासन ने इन मजदूरों को साईंबाबा विद्यालय में क्वारंटाइन किया था। सूत्रों के अनुसार जो 45 मजदूर भागे वे सभी अपने-अपने घरों में मौजूद हैं लेकिन प्रशासन ने अब तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। इस मामले में तहसीलदार महेंद्र गणवीर से पूछे जाने पर उन्होंने मामले की जांच करने की बात कही है। 

उत्तर प्रदेश से लौट रहे मजदूर ने तलेगांव में तोड़ा दम 
 मुंबई से उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जा रहे ट्रक में सवार दो मजदूरों में से एक की तबीयत खराब होने के कारण चालक ने बीच राह में उसे उतार दिया और उसकी मौत हो गई। रविवार दोपहर चालक ने सारवाड़ी के समीप 80 वर्षीय शांतालाल यादव तथा रामसुमेर काशीलाल यादव को तेज बुखार होने के कारण ट्रक से उतार दिया था। शाम करीब 7.30 बजे शांतालाल यादव ने दम तोड़ दिया।  थ्रोट स्वैब के नमूने लेने के बाद उसका सारवाड़ी परिसर में ही अंतिम संस्कार कर दिया गया जबकि रामसुमेर काशीलाल यादव को वर्धा के अस्पताल में उपचार के लिए दाखिल करवाया गया है। बताया जाता है कि इन दोनों के साथ कुल 18 मजदूर शनिवार को मुंबई से गोरखपुर के लिए ट्रक में सवार होकर निकले थे। इन दोनों को छोड़ अन्य मजदूर ट्रक से गोरखपुर के लिए रवाना हो गए थे।

कमेंट करें
BM2JZ