दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र : गणेश विसर्जन के दौरान डूबने से करीब 20 लोगों की मौत, एक की तलाश

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गणेशोत्सव के दौरान हुए हादसों में राज्य के अलग-अलग हिस्सों में 18 लोगों की डूबने से मौत हो गई। जबकि एक की तलाश जारी है। मुंबई के भांडुप इलाके में एक शख्स ने विसर्जन के दौरान अपनी जान गंवाई। इसके अलावा रायगढ़, जालना और पुणे (ग्रामीण) जिले में प्रत्येक से तीन, सतारा एवं भंडारा से दो-दो और पिंपरी-चिंचवड़ (पुणे की बाहरी सीमा पर), बुलढाणा, नांदेड़ और अहमदनगर से एक-एक व्यक्ति की मौत की खबर मिली है।  रविवार की सुबह श्रद्धालुओं ने 11 दिन के गणेश उत्सव के समापन के दिन राज्य भर में गणेश की प्रतिमाओं को नदियों एवं झीलों में विसर्जित किया। 13 सितंबर को गणेश चतुर्थी के दिन से शुरू हुआ यह त्योहार रविवार को ‘अनंत चतुर्दशी’ पर समाप्त हुआ।

उधर यवतमाल, भंडारा और अमरावती में गणेश विसर्जन के दौरान पांच की डूबने से मौत हो गई। विदर्भ में गणेश विसर्जन के दौरान यह हादसे हुए हैं। जिसमें यवतमाल जिले में दो, भंडारा जिले में दो और अमरावती जिले में एक व्यक्ति विसर्जन के दौरान डूब गया। इनमें  चार की मौत हो गई, जबकि एक का शव अभी तक नहीं मिल पाया है।

यवतमाल जिले की रालेगांव तहसील में रविवार 23 सितंबर को कापसी नदी में गणेश विसर्जन के दौरान हनुमंत दादाराव उइके (19, गोंडपुरा) तथा संकेत प्रभाकर तुमराम (11) डूब गए। दोपहर में हनुमान का शव मिल गया। लेकिन संकेत का कोई पता नहीं चल पाया।

उधर भंडारा जिले की पवनी तहसील अंतर्गत ग्राम सिंगोरी में रविवार सुबह 12 बजे के दौरान सिंगोरी निवासी वैभव संभा आडे(14) तथा संकेत कविंद्रकुमार कन्नके(15) गणेश विसर्जन के बाद तैरते समय डूब गए थे। जिनके शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं। 

इसी तरह अमरावती जिले की वरुड़ तहसील में भी कुछ इसी प्रकार का वाक्या घटित हुआ। वरुड़ तहसील अंतर्गत रोशनखेड़ा में गणेश विसर्जन के समय पानी में उतरे राहुल पुंडलिक नेरकर (30) की डूूबने से मृत्यु हो गई।