प्रारुप को मिली मंजूरी : चंद्रपुर शहर की इरई नदी के सौंदर्यीकरण पर खर्च होंगे 575 करोड़

February 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। चंद्रपुर शहर की इरई नदी के सौंदर्यीकरण के कामों के लिए 575 करोड़ रुपए के प्रारूप को सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान की गई है। बुधवार को मंत्रालय में उपमुख्यमंत्री अजित पवार की मौजूदगी में यह फैसला लिया गया। इसमें प्रदेश के मदद व पुनर्वसन मंत्री तथा चंद्रपुर के पालक मंत्री विजय वडेट्टीवार मौजूद थे।  

बैठक के बाद वडेट्टीवार ने कहा कि चंद्रपुर शहर के 7 किमी क्षेत्र को प्रभावित करने वाली इरई नदी के किनारे बड़ी मात्रा में गाद जमा हो गई है। इस नदी के किनारे बड़े पैमाने पर कोयला उत्खनन हुआ है। इससे नदी का किनारा संकरा हो गया है। इसलिए अब इरई नदी के सौंदर्यीकरण का फैसला लिया गया है। पहले चरण में इरई नदी की सफाई, गहराकरण और गाद निकालने का काम किया जाएगा। वडेट्टीवार ने कहा कि इरई नदी के कामों के लिए राज्य आपदा मोचन कोष (एसडीआरएफ) से निधि प्रदान की जाएगी। वडेट्टीवार ने बताया कि वर्धा के तीर्थक्षेत्र घोराड परिसर के विकास के लिए फैसला लिया गया है। इसके अलावा पुणे के मावल तहसील में स्थित संत श्री जगनाडे महाराज की समाधी स्थल के विकास के लिए 74 करोड़ रुपए प्रारूप को सैद्धांतिक मंजूरी दी गई है।

 
 

 


 

खबरें और भी हैं...