comScore

कोरोना रिपोर्ट आते ही क्वारेंटाइन सेंटर से 60 कैदियों को भेजा जाएगा सेंट्रल जेल

कोरोना रिपोर्ट आते ही क्वारेंटाइन सेंटर से 60 कैदियों को भेजा जाएगा सेंट्रल जेल

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सेंट्रल जेल से 18 मार्च से लेकर 19 मई तक लॉकडाउन तक 557 कैदियों को छोड़ा जा चुका है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नागपुर सेंट्रल जेल के क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती 60 कैदियों को जल्द ही जेल के अंदर भेजा जाएगा। इन कैदियों की गत दिनों टेस्टिंग की गई है। इनकी जांच रिपोर्ट आते ही इन सभी कैदियों को जेल के अंदर भेज दिया जाएगा।

 लॉकडाउन के समय जेल के अंदर दाखिल हुए जेल अधीक्षक अनूप कुमरे सहित अन्य पुलिस अधिकारी-कर्मचारी फिलहाल जेल के अंदर ही हैं। दूसरी बी टीम के अधिकारी- कर्मचारियों की मेडिकल जांच शुरू है। इन सभी की जांच रिपोर्ट आने के बाद यह जेल के अंदर प्रवेश कर टीम ए की जगह जिम्मेदारी संभालेंगे। जेल अधीक्षक ने कैदियों की कोरोना जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बातचीत कर चुके हैं। जल्द ही 1200 से अधिक कैदियों व आरोपियों की कोरोना जांच की जाएगी। इसमें शहर के कुछ गैंगस्टर व शातिर अपराधी भी शामिल हैं।

335 अंडरट्रायल कैदी भी शामिल
सेंट्रल जेल से पिछले एक महीने में छोड़े गए 557 कैदियों में 335 अंडरट्रायल कैदी भी शामिल हैं। सूत्रों ने बताया कि अंतरिम जमानत पर 164, नियमित जमानत पर 171 कैदियों सहित कुल 335 कैदियों को जेल से एक माह के अंदर छोड़ा गया। लॉकडाउन के चलते इमरजेंसी पैरोल पर 222 कैदियों को छोड़ा गया है। आने वाले समय में जेल से छोड़े गए इन कैदियों को एक निर्धारित समय के बाद जेल में वापस लौटना है।

रिपोर्ट मिलने के बाद लिया जाएगा फैसला
सेंट्रल जेल परिसर में मंगलमूर्ति लॉन के अंदर बने क्वारेंटाइन सेंटर के अंदर भर्ती 60 कैदियों की टेस्टिंग की जा चुकी है। उसकी रिपोर्ट आते ही उन्हें जेल के अंदर भेज दिया जाएगा। अगर कोई कोरोना पॉजिटिव मिलता है, तो उसे उपचार के लिए मेयो या फिर मेडिकल अस्पताल भेजा जाएगा। -अनूप कुमरे, अधीक्षक, सेंट्रल जेल, नागपुर
 

कमेंट करें
eSxMX