दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना महामारी के चलते हाईकोर्ट में 61 हजार प्रकरण अटके

July 28th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना महामारी की वजह से न्यायप्रणाली में भी बाधा उत्पन्न हुई है। बावजूद भारतीय न्याय व्यवस्था पर जनमानस का यह अटूट विश्वास है। लेकिन विगत लगभग डेढ़ वर्ष से महामारी की वजह से इसमें व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। यही कारण है कि, मुंबई उच्च न्यायालय की नागपुर खंडपीठ में 61 हजार 402 प्रकरण प्रलंबित हैं। आरटीआई कार्यकर्ता अभय कोलारकर द्वारा सूचना अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में यह खुलासा हुआ है।

सूचना अधिकार के तहत कोलारकर ने प्रलंबित कुल प्रकरण, दीवानी मामले, फौजदारी मामले, कोरोना काल में दाखिल मामले व निपटाए गए मामलों का ब्योरा मांगा था।  नागपुर खंडपीठ के जनसंपर्क अधिकारी व उप-प्रबंधक ज्ञानेश्वर मोरे ने 20 जुलाई 2021 तक कुल 61 हजार 402 प्रकरण प्रलंबित होने की जानकारी दी है। दिए गए ब्योरे के मुताबिक 51 हजार 901 दीवानी मामले व 9501 फौजदारी मामले इसमें शामिल हैं। उन्होंने बताया कि, 1 अप्रैल 2020 से 20 जुलाई 2021 तक कुल 11,243 नए मामले अदालत में दाखिल ह़ुए हैं, जबकि 6,546 मामलों का अदालत में निपटारा हुआ है।   

 

खबरें और भी हैं...