• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • 8 people including Udae, Assistant Superintendent of Daga Hospital, Councilor Bhisikar caught gambling

दैनिक भास्कर हिंदी: जुआ खेलते पकड़ाए पार्षद भिसीकर, डागा अस्पताल के सहायक अधीक्षक उराडे सहित 8 लोग

June 18th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।   प्रभाग-5 के पार्षद प्रवीण भिसीकर, डागा अस्पताल के सहायक अधीक्षक संजय उराडे, इसी अस्पताल का लिपिक नरेंद्र मेश्राम सहित 8 लोग जुआ खेलते पकड़े गए हैं। बजाजनगर के अत्रे ले-आउट, आनंद नगर में  अपराध शाखा पुलिस विभाग की यूनिट-3 ने बड़ी कार्रवाई की। एक ट्रांसपोर्ट कारोबारी के मकान में जुआ अड्डा संचालित हो रहा था। पुलिस ने यहां से मोबाइल, कारें और दोपहिया वाहन सहित 19.80 लाख का माल जब्त किया है। भाजपा के नगरसेवक प्रवीण भिसीकर के खिलाफ हुई कार्रवाई के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गरमा गया है। जुआरियों के समर्थक देर रात तक बजाजनगर थाने में डटे रहे। बाद में थाने से ही सबको जमानत मिल गई।

इनकी हुई गिरफ्तारी
प्रभाग-5 के भाजपा नगरसेवक प्रवीण भिसीकर (40), इतवारी पोस्ट ऑफिस भिसीकर मोहल्ला, प्रवीण पराते (33) जीवनकर कॉलोनी मानेवाड़ा, नरेंद्र मेश्राम (46) जोगीनगर, सुरेश भोयर (54) धोटे ले-आउट, नीलेश मोहाडीकर (34) शिवनकर कॉलोनी, अजनी,  संजय उराडे (54) मंगलधाम सोसायटी टाकली सिम, रमेश जाधव (54) एचबी स्टेट, सोनेगांव और ज्ञानराव धार्मिक (42) जयताला निवासी।

रात होते ही लगने लगता था वाहनों का जमावड़ा
आरोप है कि अत्रे ले-आउट निवासी व ट्रांसपोर्ट कारोबारी संजय लाटकर के मकान में  जुआ अड्डा चल रहा था। इसकी जानकारी पुलिस को मिली तो पूरी टीम हरकत में आई। संजय के मकान के आसपास रात होते ही कारों और दोपहिया वाहनों का जमावड़ा लगता था। 16 जून को भी ऐसा ही हुआ। वाहनों का जमावड़ा लगना शुरू हुआ तो पुलिस ने ट्रांसपोर्ट कारोबारी के मकान पर छापा मारा। पुलिस ने यहां से 10 हजार 200 रुपए नकद, 3 कारें, 2 दोपहिया वाहन और 7 मोबाइल फोन जब्त किया है। खास बात यह है कि गिरफ्तार लोगों में शामिल संजय उराडे डागा अस्पताल के सहायक अधीक्षक पद पर तैनात हैं। नरेंद्र मेश्राम इसी अस्पताल में लिपिक है।

थाने से जमानत
सभी जुआरियों के खिलाफ बजाज नगर थाने में प्रकरण दर्ज किया गया था। उसी रात थाने से ही सबको जमानत मिल गई। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त डॉ. नीलेश भरणे के मार्गदर्शन में यह कार्रवाई की गई। यूनिट 3 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विनोद चौधरी, सहायक पुलिस निरीक्षक पंकज धाडगे, एएसआई रफीक खान, हवलदार प्रशांत लाडे, अनिल दुबे, शैलेश पाटील, अरुण धर्मे, नायब सिपाही श्याम कडू, अमित पात्रे, प्रवीण गोरटे चालक मोहम्मद शरीफ, राजू पोतदार पुलिस टीम में शामिल थे।