दैनिक भास्कर हिंदी:  नागपुर में 803 इंडस्ट्री शुरू, पोर्टल में बदलाव, परमिशन के लिए मिलने लगे आवेदन

May 5th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा लॉकडाउन को शिथिल कर दुकानें खोलने की इजाजत देने के बाद भी  जीवनावश्यक वस्तुओं के अलावा दूसरी दुकानें नहीं खुल पाईं। महानगरपालिका आयुक्त ने शहर में दुकाने शुरू करने की इजाजत नहीं दी।  वहीं ग्रामीण भाग में इंडस्ट्री शुरू करने की इजाजत दी गई है, लेकिन इसके लिए विविध विभागों से अलग-अलग अनुमति लेनी पड़ रही है। इसके चलते अधिकांश इंडस्ट्री शुरू नहीं हो पाई हैं।

उद्योग मंत्री ने इस प्रक्रिया में सुधार करने के निर्देश संबंधित विभाग को हाल ही मे दिए थे। साेमवार तक जिले में 803 इंडस्ट्री शुरू हो चुकी है। लगभग 18000 लोगों को रोजगार मिल चुका है। इनमें से 225 इंडस्ट्री इमरजेंसी सेवाओं से संबंधित हैं, जो पहले ही शुरू थीं। 578 इंडस्ट्री  20 अप्रैल के बाद शुरू हुई हैं। इंडस्ट्री इमरजेंसी सेवाओं से संबंधित उद्योग के माध्यम से 6030 लोगों को रोजगार मिल रहा था। इसके बाद अब 11600 लोग काम पर आए हैं। इंडस्ट्री शुरू करने के लिए अब तक 2000 इंडस्ट्री ने आवेदन किया है। एमआईडीसी के पोर्टल में कुछ बदलाव किए गए हैं, जिसके बाद अब  उद्योग शुरू करने के लिए आवेदन की संख्या बढ़ेगी। 

बदलाव के बाद होगी आसानी
जटिल प्रक्रिया की समस्या से उद्योगमंत्री को अवगत कराया जा चुका है। उन्होंने एमआईडीसी रीजनल ऑफिस को यह प्रक्रिया सरल करने के पूरे अधिकार दे दिए हैं। पोर्टल में बदलाव के बाद उद्योग शुरू करने में आसानी होगी। -सुरेश राठी, अध्यक्ष, विदर्भ इंडस्ट्रीज एसोसिएशन

रेड जोन के बाहर व्यापार पर हो विचार
शहर का व्यापार पिछले 1 माह से बंद है। घर में बैठे-बैठे लोग परेशान हो चुके हैं। महानगरपालिका प्रशासन को भी अब रेड जोन के बाहर व्यापार शुरू करने पर विचार करना चाहिए।  -अश्विन मेहाडिया, अध्यक्ष, नाग विदर्भ चेंबर ऑफ  कॉमर्स 

 

खबरें और भी हैं...