दैनिक भास्कर हिंदी: तड़ीपार अपराधी नागपुर से चुराकर भंडारा ले जाता था वाहन, पकड़ा गया 

December 16th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। वाहन चोरी के मामले में एक तड़ीपार आरोपी को उसके साथी के साथ गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के नाम तरणजीत सिंह उर्फ तन्नू गुरदीप सिंह बैस (25) गली नंबर 13 पंजाबी लाइन, इंदोरा और शुभम वासुदेव पिल्ले (20) शेंडे नगर, कपिल नगर, नारी रोड निवासी है।  आरोपियों से पुलिस ने तीन दोपहिया वाहन सहित करीब 70 हजार रुपए का माल जब्त किया है।

पुलिस का दावा
पुलिस दल को आरोपी 12 दिसंबर को इंदोरा इलाके में चोरी का दोपहिया लेकर घूमते मिल गया। उसे थाने ले जाया गया और कड़ी पूछताछ हुई। पुलिस का दावा है कि उसने अपने साथी शुभम पिल्ले उर्फ  जंगली का नाम भी उजागर किया। दोनों आरोपियों से पुलिस रिमांड के दौरान तीन दोपहिया वाहन जब्त किया गया। तीनों दोपहिया वाहनों में से दो दोपहिया वाहन जरीपटका और एक दोपहिया वाहन कलमना थाना क्षेत्र से चोरी करने की बात दोनों ने कबूली। जरीपटका के थानेदार नितीन फटांगरे के नेतृत्व में कार्रवाई की। जरीपटका थाने के डीबी स्क्वाॅड के हवलदार सुनील तिवारी की टीम के उपनिरीक्षक नवनाथ देवकाते, सहायक पुलिस उपनिरीक्षक वहाब देसाई, नायब सिपाही लक्ष्मण चौरे, सिपाही अनीस खान, पवन यादव व सुशील महाजन ने कार्रवाई में सहयोग किया। 

गश्त पर थी पुलिस
पुलिस सूत्रों के अनुसार, जरीपटका क्षेत्र से अक्टूबर माह में विलास बांडेबुचे भंडारा निवासी का वाहन ठवरे कॉलोनी जरीपटका क्षेत्र से चोरी हो गया था। इसी तरह न्यू इंदोरा लाइन क्षेत्र से शुभम साखरे  और कलमना क्षेत्र से नितीन मोटघरे का दोपहिया वाहन चोरी हो गया था। इन तीनों ने संबंधित थानों में शिकायत की थी। जरीपटका पुलिस 12 दिसंबर को गश्त कर रही थी। इस दौरान सूचना मिली कि जरीपटका क्षेत्र से चोरी हुए दोपहिया वाहन को तरणजीत सिंह भंडारा ले गया है। पुलिस ने तरणजीत का रिकॉर्ड निकाला तो पता चला है कि उसे नागपुर जिले से दो वर्ष के लिए भंडारा में तड़ीपार किया गया है। जरीपटका पुलिस के थानेदार नितीन फटांगरे को सूचना दी गई। उसके बाद भंडारा जिले के वरठी गांव पुलिस पहुंची। वरठी गांव में पूछताछ करने पर पता चला कि वह गांव में नहीं है।