दैनिक भास्कर हिंदी: सोते समय किसान की हत्या, पुलिस को नशे के आदी बेटे पर शक

December 9th, 2018

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। लालबर्रा थाना अंतर्गत ग्राम कनकी निवासी 52 वर्षीय किसान लेखराम पिता बकाराम ब्रम्हें रात्रि में भोजन कर अपने बिस्तर में सो गया था जब सुबह वह नहीं उठा तो परिजनों ने देखा तो लेखराम घर के अंदर बिस्तर पर मृत पड़ा था। जिसकी जानकारी ग्रामीण और परिवारजनों ने  पुलिस को दी। जिसके बाद एसडीओपी श्री परतेती, थाना प्रभारी और हमराह पुलिस बल के साथ एफएसएल और फिंग्रर प्रिंट टीम भी घटनास्थल पहुंची, जहां घटनास्थल का अधिकारियों और टीम ने बारिकी से निरीक्षण किया।

जिसके बाद बताया जा रहा है कि लेखराम की हत्या किसी रस्सी से गला घोंटकर की गई है जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। घर के अंदर वृद्ध लेखराम की हत्या में घर के सदस्य पर शक गहरा है हालांकि पुलिस ने अभी इस मामले में अज्ञात शख्स द्वारा ही हत्या किये जाने की बात कही है। जानकारी के अनुसार मृतक लेखराम अपने छोटे बेटे दिनेश उम्र लगभग 10 वर्ष के साथ रहता था। जबकि उसका बड़ा बेटा गजानंद कुछ दिन पहले ही नागपुर से गांव आया था। जहां दो कमरो के मकान में एक ओर पिता लेखराम ब्रम्हें और उसका छोटा बेटा दिनेश तथा दूसरे कमरे में बड़ा बेटा गजानंद परिवार के साथ रहता था। संभावना व्यक्त की जा रही है कि संपत्ति या पारिवारिक विवाद लेखराम की मौत की वजह हो सकती है।

शव का बनाया गया पंचनामा
पुलिस द्वारा शव का पंचनामा कार्रवाई कर परीक्षण कराया गया तथा परीक्षण के बाद शव को परिवारजनों को अंतिम संस्कार के लिये सौंप दिया गया है। पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है।

लोगों का कहना पुत्र ही हत्यारा
जब ग्रामीणों को लेखराम ब्रम्हें की हत्या की जानकारी मिली तो लोगो द्वारा चर्चा की जा रही है कि लेखराम की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके बेटे ने ही की होगी। क्योंकि उसका बड़ा बेटा नशे का आदि था और उसके द्वारा अपनी माता एवं पत्नि के सोने के जेवर बेचकर नशे की आदतों के कारण उड़ा दिये गये है और उसके पास नशा करने के लिए पैसे नहीं रहते थे जिसके चलते अपने पिता की संपत्ति की लालच में उसने ही अपने पिता का गला घोंटकर हत्या कर दी होगी।

इनका कहना है
मृतक के गले में रस्सी से उसका गला घोंटने के निशान मिले है। जिससे यह प्रथमदृष्टया हत्या का मामला है। अब तक यह पता नहीं चल सका है कि मृतक की हत्या किस वजह से की गई है। जिसमें जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। मामले में वृद्ध की मृत्यु होने पर मर्ग कायम कर शव को बरामद करने के बाद पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। मामले की जांच जारी है।
श्री परतेती, एसडीओपी, वारासिवनी अनुविभाग

 

खबरें और भी हैं...