दैनिक भास्कर हिंदी: नहीं माने चौकीदार की बात, खदान में डूबने से किशोर की मौत, 6 घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद मिला शव

October 14th, 2018

डिजिटल डेस्क, सतना। चौकीदार द्वारा खदान में नहाने से युवकों को लगतार रोका गया, लेकिन युवको ने चौकीदार की बात नहीं मानी और एक युवक की डूबने से मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने 6 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद युवक का शव बरामद कर लिया है। पुलिस ने शव का पंचानामा कर मर्ग कायम करते हुए पोस्ट मार्टम के लिए भेजा है।

इस संबंध में पुलिस ने बताया कि  नादन-देहात थाना अंतर्गत झाली गांव के पास खदान में डूबने से किशोर की मौत हो गई।  शव 6 घंटे बाद गोताखोरों के द्वारा शव को निकाला गया। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक सुरेन्द्र पटेल पुत्र सुरेश 16 वर्ष के परिवारिक सदस्य की कुछ दिन पूर्व मौत हो गई थी, जिसकी शुद्धताई में शामिल होने के लिए वह अपने बड़े भाई अमित के साथ पहुंचा और फिर नहाने के लिए निकल गया। तकरीबन 10 बजे दोनों भाई खदान के पास पहुंचे, तो चौकीदार ने दोनों भाईयों को नहाने से मना किया, लेकिन दोनों ने उसकी बात को अनसुना कर सुरेन्द्र खदान में उतर गया और देखते ही देखते पानी में डूब गया।

डायल 100 को दी खबर
पुलिस ने बताया कि मौके पर मौजूद अमित ने बचाने की कोशिश की, लेकिन वह उसे बचाने में नाकाम रहा। अमित ने जाकर इस पूरे मामले की जानकारी  परिजन को दी, जिसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचकर बचाव के प्रयास में लग गए। इस पूरे मामले की जानकारी  डायल 100 के जरिए पुलिस को दी गई, जिसके बाद थाना प्रभारी भूपेन्द्रमणि पांडेय अपनी टीम और होमगार्ड के 6 गोताखोरों को लेकर झाली पहुंचे।

6 घंटे बाद निकला शव
तमाम साजो-सामान के साथ पहुंचे गोताखोर दल के गोपाल सिंह, करण सिंह, वासुदेव साकेत, प्रभुदयाल विश्वकर्मा, वरूण दास और रामलाल साहू ने 6 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शाम करीब साढ़े 4 बजे किशोर का शव बाहर निकाल लिया। मौके पर ही पंचनामा कार्यवाही कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल मैहर भेजा गया। घटना के बाद से गांव में शोक का महौल व्याप्त है।