दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर स्टेशन पर गूंजी किलकारी, पुणे से हावड़ा जा रही थी महिला ने दिया बेटी को जन्म

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क,नागपुर। पुणे से हावड़ा जा रही एक महिला को सफर के बीच ही प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। टीटीई ने नागपुर में डॉक्टरों को कॉल कर महिला को नागपुर स्टेशन पर उतारा। महिला को अस्पताल लेकर जाने के पहले उसने एक बच्ची को जन्म दिया। सूत्रों के अनुसार डॉक्टरों ने तुरंत वहीं पर ट्रीटमेंट शुरू कर दिया। जिसके बाद दोनों को मेयो अस्पताल रवाना किया गया।

जानकारी के अनुसार अर्पिता ( बदला हुआ नाम) पुणे की रहनेवाली है। मंगलवार को वह आजाद हिंद एक्सप्रेस से एस-8 बोगी से  हावड़ा जा रही थी। लेकिन नागपुर के पास यानी बुटीबोरी पार करने के बाद उसे पेन शुरू हो गया। वह दर्द से कराहने लगी थी। ऐसे में बोगी के यात्रियों का ध्यान गया। तुरंत उन्होंने गाड़ी के टीटीई को इस बात की जानकारी दी। महिला की पीड़ा और ज्यादा बढ़ने से टीटीई ने कंट्रोल को इसकी सूचना दी। कंट्रोल ने नागपुर के रेलवे डॉक्टर को महिला को अटेंड करने के लिए कहा। इधर गाड़ी नागपुर के करीब आते ही डॉक्टरों की टीम भी स्टेशन पर पहुंच गई थी। महिला को ट्रेन से नीचे उतारा गया। इससे पहले की उसे स्ट्रेचर पर डालकर एम्बुलेंस तक लेकर जाते तक महिला दर्द से कराहने लगी। ऐसे में महिला कर्मचारियों ने उसे परदों आदि से कवर कर लिया। जिसके बाद महिला ने वहीं पर बच्ची को जन्म दिया। डॉक्टरों की टीम ने मिलकर यही पर बच्चे की नाल भी काटी। जिसके बाद उसे एम्बुलेंस से मेयो अस्पताल में भेजा गया। 

नागपुर स्टेशन पर गाड़ी सुबह 10.30 बजे पहुंची थी। महिला की  कराहने की आवाज आने से यात्रियों यहां भीड़ जम गई थी।  बच्ची के जन्म के बाद मां और बच्ची के स्वस्थ रहने का हाल जानकार सभी ने ईश्वर का शुक्रिया अदा किया। याद रहे कि, गत एक साल की बात करें तो नागपुर स्टेशन व नागपुर में आई एक्सप्रेस गाड़ियों में 4 से ज्यादा प्रसूति हुई है। हालांकि हर केस में जन्म लेनेवाले शिशु को बचाने में सफलता नहीं मिली ।