दैनिक भास्कर हिंदी: VNIT गर्ल्स हॉस्टल की 200 छात्राओं को फू़ड प्वाइजनिंग, अस्पताल में भर्ती

October 4th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर के विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय अभियांत्रिकी संस्थान (वीएनआईटी) के गर्ल्स हॉस्टल में रहने वाली करीब 200 छात्राओं को फूड प्वाइजनिंग हो गया है। इसमें से करीब 15 छात्राओं को संस्थान से जुड़े अस्पताल में भर्ती करने की जानकारी है। छात्राओं को मेडिट्रीना, क्रीम्स और डाॅ. धुले के अस्पताल में रखा गया है।  मामले में संस्थान का दावा है कि छात्राओं को विषबाधा नहीं, बल्कि वायरल इंफेक्शन हुआ है। संस्थान में व्याप्त इस स्थिति के खिलाफ विद्यार्थियों में असंतोष है। जिसके चलते विद्यार्थियों ने आंदोलन की राह ली है।  दरअसल संस्थान में बीते कुछ समय से यह स्थिति बनी हुई है। खासकर हॉस्टलों में तो भय का माहौल है। बीते शुक्रवार से लगातार एक के बाद एक विद्यार्थी बीमार हो रहे हैं। ऐसे में करीब 200 छात्राओं के बीमार होने के बाद  वार्डन ने इस बात की जानकारी संचालक को दी। इसमें से करीब 10 से 15 छात्राओं की तबीयत बहुत ज्यादा खराब हो जाने के कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। विषबाधा से बीमार अधिकांश छात्राओं को तुरंत डिस्चार्ज कर दिया गया। इस मामले में वीएनआईटी संचालक डॉ. प्रमोद पड़ोले का दावा है कि छात्राओं काे वायरल इंफेक्शन होने के कारण बुखार आया। एहतियातन कुछ छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया। केवल दो छात्राएं इस वक्त भर्ती हैं। फूड पॉयजनिंग की बात अफवाह है। 

मेस संचालक को बदलने छात्रों का आंदोलन  
फूड पॉयजनिंग के कारण संस्थान में फैल रही बीमारियों के खिलाफ विद्यार्थी वर्ग में खासा गुस्सा है। इसी के चलते संस्थान में जारी विद्यार्थियों का आंदोलन बुधवार को अधिक उग्र हो गया। यह आंदोलन देर रात जारी रहा। विद्यार्थियों ने संस्थान प्रबंधन से मेस ठेकेदार बदलने की मांग की है। बता दें कि इसके पहले भी कुछ स्टूडेंट्स ने हॉस्टल के भोजन को लेकर शिकायत की थी लेकिन उस समय किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया स्टूडेंट्स को समझा-बुझाकर शांत करा दिया गया।
 

खबरें और भी हैं...