दैनिक भास्कर हिंदी: बिजनेस प्रमोशन के नाम पर करोड़ों हड़पने वाला गिरफ्तार-रिमांड पर लेकर होगी पूछताछ

March 29th, 2019

डिजिटल डेस्क,जबलपुर। बिजनेस प्रमोशन के नाम पर शहर के कई व्यापारियों से करोड़ों रुपए ऐंठने के बाद फरार हुए एक जालसाज को मदन महल पुलिस ने ग्वारीघाट कृष्णा हाईट्स अपार्टमेंट से गिरफ्तार किया है। मदन महल थाना प्रभारी संदीप अयाची के अनुसार रविकृष्ण श्रीवास्तव नाम के इस जालसाज ने मदन महल अनंत अस्पताल के पास दो और  राजस्थान के उदयपुर शहर में हाईप्रोफाइल दफ्तर खोल रखे थे। रवि ने जबलपुर में जय सिंह ठाकुर, सतीशचंद्र खत्री के अलावा राजस्थान में पीयूष गर्ग नाम के व्यापारी को पार्टनर बनाया था। रवि ने तीनों से सस्ती जमीनें खरीदकर बड़े फायदे का लालच देकर करोड़ों रुपए इन्वेस्टमेंट के नाम पर लिए थे। रवि ने तीनों पार्टनरों को चैक दे रखे थे, लेकिन जब मूल रकम और मुनाफा नहीं मिला तो तीनों पार्टनरों ने बैंक में चैक लगाए, जिसके बाद पता चला कि सभी चैक फर्जी हैं। सच्चाई उजागर होने के बाद रवि अंडर ग्राउंड हो गया, जिसके बाद उसके पार्टनरों ने कोर्ट में चैक लगाकर रवि के खिलाफ मदन महल थाने में धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज कराई थी।  लेकिन रवि लगातार फरार चल रहा था, जिसके खिलाफ कोर्ट से स्थायी वारंट जारी हुआ था। टीआई अयाची के अनुसार गुरुवार की सुबह मुखबिर से सूचना मिली कि रवि कृष्णा हाईट्स स्थित अपने फ्लैट में पहुँचा है, लिहाजा उसे घर पहुँचकर गिरफ्तार कर लिया गया।
शिक्षिका का पर्स छीनकर भागे दो बाइक सवार
विशाल मेगामार्ट के पास एक शिक्षिका का बैग छीनकर बाइक सवार भाग निकले। घटना रात करीब 11 बजे की बताई जा रही है। बाइक सवार लुटेरे पल्सर बाइक पर सवार थे और उनकी उम्र 25 वर्ष के करीब बताई जा रही है। लूट की घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने नाकेबंदी शुरू कर दी थी लेकिन लुटेरे भागने में सफल हो गए। लार्डगंज थाना क्षेत्र में हुई इस वारदात के बारे में शिक्षिका शिखा दुबे ने पुलिस को जानकारी दी है कि वे अपने पति के साथ रसल चौक से स्टेट बैंक कॉलोनी स्थित अपने घर जा रही थी। रास्ते में विशाल मेगामार्ट के पास मेरे पति सुधीर दुबे मिठाई खरीदने चले गए और वे अकेली खड़ी हुईं थीं, तभी पीछे से आए दो बाइक सवार युवकों में से एक ने झपट्टा मारा और बैग छीनकर वे भाग निकले। मैं चिल्लाई तो लोगों का ध्यान मेरी ओर गया लेकिन तब तक लुटेरे भाग निकले थे। बैग में करीब 4 हजार रुपए एवं जरूरी कागजात थे। लुटेरों के हुलिए  एवं सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने खोजबीन प्रारंभ कर दी है।

 

खबरें और भी हैं...