comScore

 ATM लेकर नेपाल भागने की कोशिश कर रहे आरोपी को लखनऊ से पकड़ा

 ATM लेकर नेपाल भागने की कोशिश कर रहे आरोपी को लखनऊ से पकड़ा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। करीब 18 लाख रुपयों समेत पूरी एटीएम मशीन उठाकर ले जाने वाले आरोपियों को ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। चार आरोपी महाराष्ट्र के ही विभिन्न इलाकों से पकड़े गए जबकि नेपाल भागने की कोशिश कर रहे एक आरोपी को उत्तर प्रदेश पुलिस की मदद से दबोचा गया। पुलिस ने  तालाब में फेंकी गई एटीएम मशीन और चोरी के लिए इस्तेमाल गाड़ी बरामद कर ली है जबकि लुटे गए पैसों के बारे में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। एपीआई संदीप बागुल को खबरियों के जरिए आरोपियों के बारे में भनक लगी। इसके बाद अतुल दवणे, सूरज म्हात्रे, दादासो उर्फ सूरज कांबले और फुलाजी गायकर नाम के आरोपियों को दबोच लिया गया।

आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि भीमा जोरा नाम का नेपाल मूल का आरोपी भी वारदात में शामिल था। वह उत्तर प्रदेश के रास्ते नेपाल भागने की कोशिश कर रहा है। इसके बाद मामले की सूचना उत्तर प्रदेश पुलिस को दी गई।उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने लखनऊ कानपुर हाईवे पर टोल नाके पर जाल बिछाकर आरोपी जोरा को एक बस से दबोच लिया। सीनियर इंस्पेक्टर नितिन ठाकरे ने बताया कि ठाणे पुलिस की टीम आरोपी को हिरासत लेने लखनऊ रवाना हो चुकी है। जबकि पकड़े गए दूसरे आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 19 जून तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। आरोपियों ने लूट की रकम कहां छिपा रखी है इसकी छानबीन की जा रही है।

48 घंटे में सुलझी गुत्थी
आरोपी दहिसर ग्राम पंचायत के पास स्थित एक्सिस बैंक का पूरा एटीएम ही उठा ले गए थे। आरोपियों ने पहले एटीएम काटकर पैसे निकालने की कोशिश की लेकिन जब नाकाम रहे तो वह एटीएम ही गाड़ी में डालकर उठा ले गए। वारदात रात 2 से 3 बजे के बीच अंजाम दी गई। रात को यहां कोई सुरक्षा रक्षक नहीं रहता। सवेरे जब लोगों ने एटीएम गायब पाया तो मामले की शिकायत पुलिस से की। शिल डायघर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू की साथ ही ठाणे पुलिस की अपराध शाखा ने भी मामले की समानांतर जांच शुरू कर दी। बैंक से पता चला कि एटीएम में 17 लाख 96 हजार 200 रुपए थे। छानबीन में जुटी पुलिस ने 48 घंटों के भीतर आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया।

कमेंट करें
8bo3z