comScore

कॉलोनी के नियम आए आड़े, दिग्विजय सिंह को फिर शिफ्ट करना पड़ेगा दफ्तर

August 26th, 2018 12:55 IST
कॉलोनी के नियम आए आड़े, दिग्विजय सिंह को फिर शिफ्ट करना पड़ेगा दफ्तर

हाईलाइट

  • रिवेरा टाऊन के जिस घर में दिग्विजय ने अपना ऑफिस शिफ्ट किया था।
  • मकान मालिक ने दिग्विजय के साथ-साथ किराएदार को भी मकान खाली करने को कह दिया है।
  • दिग्विजय ने श्यामला हिल्स स्थित बी-1 सरकारी आवास 23 अगस्त को खाली कर दिया था।

डिजिटल डेस्क, भोपाल। कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह को अब दोबारा अपना दफ्तर शिफ्ट करना पड़ेगा। रिवेरा टाऊन के जिस घर में दिग्विजय ने अपना ऑफिस शिफ्ट किया था। कॉलोनी के नियमों के अनुसार यहां कोई भी स्टूडेंट को रहने या किसी को कार्यालय खोलने के लिए मकान किराए से नहीं दिया जा सकता है। इस लिहाज से मकान मालिक ने दिग्विजय के साथ-साथ किराएदार को भी मकान खाली करने को कह दिया है। 

दरअसल, हाईकोर्ट के आदेश के बाद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने श्यामला हिल्स स्थित बी-1 सरकारी आवास 23 अगस्त को खाली कर दिया था। उनके विशेष सहायक भूपेश गुप्ता ने बताया था कि सरकारी आवास में रखा कुछ सामान दिल्ली और कुछ राघौगढ़ भेजा गया है। दफ्तर के उपयोग के सामान को माता मंदिर में स्थित रिवेरा टाउन फेस-1 के मकान नंबर 116 में रखा गया है।

ये मकान ग्रामोद्योग विभाग के संयुक्त संचालक एसएस सिकरवार का है। उन्होंने कहा कि मकान उनकी पत्नी के नाम पर है। उन्होंने हाल ही में राघौगढ़ नगरीय निकाय से कुंभराज निकाय में स्थानांतरित सीएमओ ब्रजेश गुप्ता को 16 हजार रुपए माह किराए पर मकान दिया है। नोटरी के पास एग्रीमेंट रखा होने के कारण उन्होंने पुलिस थाने में किराएदार की जानकारी दर्ज नहीं कराई है।

पहली मंजिल पर ब्रजेश गुप्ता परिवार सहित रह रहे हैं, जबकि मकान का निचला हिस्सा उन्होंने दिग्विजय सिंह को ऑफिस के इस्तेमाल के लिए दे दिया है। 
रिवेरा टाउन सोसायटी के नियमों के मुताबिक स्टूडेंड, दफ्तर या किसी भी अन्य उपयोग के लिए मकान को किराए पर नहीं दिया जा सकता है, इसलिए, सीएमओ ब्रजेश गुप्ता को मकान खाली करने के लिए कहा गया है। सिकरवार ने कहा कि गुप्ता ने जिसे भी दफ्तर के उपयोग के लिए घर में जगह दी है, उनका सामान खाली करने को कह दिया गया है।

कमेंट करें
imaMd