comScore

चेन्नई के चिड़ियाघर में शेरनी की मौत के बाद, नौ शेरों का कोरोनावायरस टेस्ट पॉजिटिव आया

June 04th, 2021 22:19 IST
चेन्नई के चिड़ियाघर में शेरनी की मौत के बाद, नौ शेरों का कोरोनावायरस टेस्ट पॉजिटिव आया

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। चेन्नई के एक चिड़ियाघर में शेरनी की कोविड-19 संक्रमण से मौत होने का संदेह है। वंडालूर के अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क की ओर से जारी प्रेस रिलीज के अनुसार, चिड़ियाघर के सफारी पार्क क्षेत्र में रखे गए पांच शेरों में भूख न लगना और कभी-कभार खांसने की सूचना मिली थी। इसके बाद इन-हाउस वेटेनरी टीम ने शेरों की तुरंत जांच की। चिड़ियाघर के अधिकारियों के अनुरोध पर, TANUVAS ने एक्सपर्ट्स की एक टीम को भी शेरों की स्थिति की जांच करने के लिए चिड़ियाघर में भेजा।

11 शेरों के ब्लड सैंपल, नेजल स्वैब, रेक्टल स्वैब और मल के नमूने भोपाल के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी डिसिजेज (NIHSAD) भेजे गए। इन 11 में से 9 सैंपल करोना पॉजिटिव आए। इस बीच, 3 जून नीला नाम की एक नौ वर्षीय शेरनी, जिसे चिड़ियाघर में अलग स्थान पर रखा गया था, उसकी मृत्यु हो गई। कहा जाता है कि शेरनी में किसी तरह के कोई लक्षण नहीं थे। हालांकि मृत्यु से एक दिन पहले कुछ नेजल डिस्चार्ज देखा गया था। इसके आधार पर उसका तुरंत इलाज किया गया।

जू अथॉरिटीज ने बयान में कहा, जिन शेरों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया उनकी क्लोज ऑबजर्वेशन में रखा गया है और ट्रीटमेंट चल रहा है। वहीं इन पशु गृहों के सभी पशुपालकों और सहायकों को कोरोना की वैक्सीन लगा दी गई है। क्षेत्र में आने वाले पशुपालकों, पशु चिकित्सकों और फील्ड स्टाफ के लिए पीपीई किट अनिवार्य है। वंडालूर चिड़ियाघर ने ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल के लिए राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान और हैदराबाद चिड़ियाघर की मदद मांगी है क्योंकि हैदराबाद के चिड़ियाघर में भी पहले कुछ शेर कोरना से संक्रमित हुए थे।

राज्य में लॉकडाउन शुरू होने के बाद से वंडालूर चिड़ियाघर बंद है। इसके बावजूद यहां मौजूद शेर कैसे SARS COV-2 वायरस से संक्रमित हुए इसका पता नहीं चल पाया है। बता दें कि मई में हैदराबाद के नेहरू जूलॉजिकल पार्क में आठ शेरों में सांस लेने में तकलीफ के लक्षण देखे गए थे। जब उनका टेस्ट किया गया तो वो कोरोना से संकमित पाए गए।

कमेंट करें
W0deg