comScore

विमान सेवा शुरू: बंगाल को छोड़कर देशभर में दो महीने बाद विमानों ने भरी उड़ान, एयरपोर्ट पर इन नियमों का पालन जरूरी


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोना वायरस महासंकट के दौरान देश में लॉकडाउन का चौथा चरण जारी है। इस बीच सोमवार से पश्चिम बंगाल को छोड़कर देशभर में आज से करीब 1050 विमान उड़ान भरेंगे। क्रेंद्र सरकार ने इसके लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। इसके तहत सभी यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। बता दें कि देशभर में 23 मार्च के बाद से सभी उड़ानें रद्द कर दी गई थीं। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने रविवार को बताया कि पश्चिम बंगाल को छोड़कर देश के सभी राज्यों में सोमवार से विमान सेवा शुरू की जाएंगी। इसके लिए सभी एयरपोर्ट पर तैयारी शुरू हो गई है।

बता दें कि आंध्रप्रदेश में 26 मई और पश्चिम बंगाल में 28 मई से सीमित उड़ानों को अनु​मति दी जाएगी। इससे पहले महाराष्ट्र और तमिलनाडु भी घरेलू उड़ानों के लिए मंजूरी दे चुके हैं। ये वे राज्य हैं, जो पहले घरेलू उड़ानें शुरू करने के पक्ष में नहीं थे। इन राज्यों का कहना था कि प्रदेश में लॉकडाउन की स्थिति में लोगों को अपने गृहजिले जाने में परेशानी होगी, क्योंकि लोकट पब्लिक ट्रांसपोर्ट पूरी तरह से बंद हैं। वहीं उड्डयन मंत्रालय के मुताबिक कल 1050 फ्लाइट्स ऑपरेट होंगी। नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा- उड्डयन मंत्रालय द्वारा उड़ान योजना के अंतर्गत उड़ानें फिर से शुरू करने का फैसला लिया गया है। इसमें उत्तर-पूर्व क्षेत्र को जोड़ने वाली उड़ानों को प्राथमिकता दी गई है। इनमें पर्वतीय इलाके, आइलैंड, छोटे रुट शामिल हैं।

यात्रियों को करना होगा नियमों का पालन
हवाई यात्रा को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए दिशानिर्देश भी जारी किए हैं। यात्रियों के लिए इन निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा। इसके मुताबिक यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा और सभी प्रवेश और निकास द्वार पर थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। यात्रियों के फोन में आरोग्य सेतु एप भी अनिवार्य रूप से इंस्टॉल होना चाहिए। इसके अलावा विभिन्न राज्यों ने भी अपने-अपने हिसाब से कुछ नियम तय किए हैं।

  • यात्रियों को फ्लाइट से कम से कम 2 घंटे पहले पहुंचना होगा।
  • यादि फ्लाइट 4 घंटे बाद होगी तो एयरपोर्ट परिसर में एंट्री नहीं मिलेगी।
  • एयरपोर्ट परिसर में वेब चेक-इन के बाद ही एंट्री मिलेगी।
  • 14 साल से ज्यादा उम्र वाले लोगों को आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा।
  • बैगेज पर टैग चिपकाना होगा।
  • सिर्फ एक चेक-इन बैग और एक केबिन बैग ले जाने की अनु​मति मिलेगी।
  • यात्रियों को फ्लाइट में खाना नहीं मिलेगा और साथ में भोजन भी नहीं ले जा सकेंगे।  

दिल्ली से रोज 190 उड़ानें
केंद्र सरकार की तरफ से एक तिहाई उड़ानों को संचालित करने की अनुमति दी गई है, इसलिए दिल्ली हवाई अड्डे से रोजाना 190 उड़ानें संचालित होंगी और उतनी ही संख्या में विमान यहां पहुंचेंगे। बताया गया है कि हवाई अड्डे पर हर रोज लगभग 20 हजार यात्री पहुंचेंगे। 

 
 

कमेंट करें
ByKin