दैनिक भास्कर हिंदी:  अकोला : मामूली बात पर पिटाई , घायल की मौत , पिता पुत्रों पर अपराध दर्ज 

June 8th, 2020

डिजिटल डेस्क  अकोला । अकोट फैल के भोईपुरा निवासी प्रवीण विजय कांबले का अपने पड़ोसी गणेश विश्वनाथ कांबले के साथ मामूली बात को लेकर विवाद हुआ था। इस घटना में पिता-पुत्रों ने प्रवीण की 7 जून को जमकर पिटाई कर दी थी। इस मारपीट में घायल के सिर पर गंभीर चोट आने के कारण परिजनों ने उपचार के लिए सर्वोपचार अस्पताल में भर्ती कराया था। उपचार के दौरान घायल ने सोमवार की सुबह 8 बजे के दौरान दम तोड़ दिया। मृतक की पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पिता पुत्र के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी। 

यह दी शिकायत 
मृतक की पत्नी 35 वर्षीय भोई पुरा निवासी सारिका प्रवीण कांबले ने दी शिकायत में कहा कि 7 जून की दोपहर 3 बजे के दौरान वह घर में बर्तन मांज रही थी। इसी बीच पति प्रवीण की मदद के लिए दर्दनाक आवज सुनाई दी। पति को अचानक क्या हो गया यह देखने के लिए बाहर आई थी। घर के बाहर आकर देखने पर गणेश विश्वनाथ कांबले अपने बेटे गोलू गणेश कांबले, अविनाश गणेश कांबले पति के साथ मारपीट करते हुए जान से मारने की धमकी दे रहा था। जिससे तीनों आरोपियों की चंगुल से पति को छुडाया था।

 अस्पताल में कराया भर्ती 
घर के बाहर कांबले पिता पुत्र द्वारा की जा रही पिटाई के समय वहां पर शीतल सोनू इंगले, गोदावरी प्रकाश इंगले, इंदीरा अर्जुन मारबते ने देखा है। मारपीट में घायल पति को काफी दर्द होने तथा सिर से खून बहने के कारण पडौसी व सास कलावती विजय कांबले के साथ लेकर पति को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया था। 

 घायल की 16 घंटे बाद मौत 
मारपीट में घायल हुए प्रवीण कांबले को सर्वोपचार अस्पताल में रविवार दोपहर 4 बजे के दौरान उपचार के लिए भर्ती कराया था। उपचार के दौरान सोमवार की सुबह 8 बजे के दौरान मौत हो गई। पति की मौत के बाद मृतक की पत्नी ने अकोट फैल पुलिस थाने पहुंचकर आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। 
 
 तीन दिनों पूर्व भी की गई थी पिटाई 
पत्नी द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया कि 4 जून को  पति के साथ आरोपियों का विवाद हो गया था। इस विवाद में आरोपियों ने पति के साथ मारपीट कर घायल किया था। पडौसियों के साथ छोटी सी बात को लेकर निर्माण हुई अनबन तथा मारपीट की घटना को अनदेखी कर शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी। 

 तीनों आरोपी हिरासत में 
अस्पताल में भर्ती घायल की मौत होने की जानकारी मिलते ही पुलिस निरीक्षक महेंद्र कदम के मार्गदर्शन में डीबी कर्मचारियों ने जांच को गति देते हुए कांबले पिता पुत्र को हिरासत में ले लिया। शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत अपराध दर्ज करने की प्रक्रिया चल रही है।