comScore

  तब्लीगी मरकज में शामिल सभी लोगों की हुई पहचान 

  तब्लीगी मरकज में शामिल सभी लोगों की हुई पहचान 

डिजिटल डेस्क,  मुंबई। निजामुद्दीन भवन हुए तब्लीगी समाज के मरकज में शामिल होकर मुंबई में आये सभी लोगों की पहचान कर ली गई है। मुंबई में आये 150 लोगों की जांच की जा रही है। अतिरिक्त्त पुलिस आयुक्त सुनील कोल्हे की अगुआई में मुंबई पुलिस की विशेष शाखा की टीम ने मरकज से आये लोगों की तलाश में अहम भूमिका निभाई। इन लोगों में से लक्षणों के मुताबिक कुछ को घर में क्वांरटाइन किया गया है। कुछ को अस्पताल में दाखिल किया गया है जबकि कुछ को क्वांरटाइन केंद्रों में रखा गया है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि निजामुद्दीन मरकज की जमात में भाग लेने गए महाराष्ट्र के सभी 14 हजार 100 लोगों का पता चल गया है और उन्हें पुलिस की निगरानी में अलग-अलग जगह क्वांरटाइन करके रखा गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कि महाराष्ट्र के अलग-अलग जिलों से तबलीगी जमात में भाग लेने दिल्ली गए जमातीओं को उनके जिलों की पुलिस ने ढूंढ निकाला है और जिला प्रशासन ने इन लोगों को उनके घरों व आइसोलेशन सेंटर्स में क्वांरटाइन करके रखा है। यवतमाल के एक अस्पताल में तब्लीगी मरीज द्वारा अस्पताल स्टाफ के साथ बदसलूकी किए जाने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि संबंधित जिलों में उनके लिए पृथक केंद्रों की व्यवस्था की जाएगी।  

पुलिस पर हमला करने वालों के खिलाफ  होगी कड़ी कार्रवाईः देशमुख
पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले और उनसे बदसलूकी की वारदातों के बीच गृहमंत्री अनिल देशमुख ने चेतावनी है कि ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त करवाई की जाएगी। देशमुख ने कहा कि पुलिसकर्मी बेहद चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में काम कर रहे हैं। पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों से सहयोग लोगों के ही हित में है। वहीं धारावी के बाद मुंबई के डोंगरी और गोवंडी इलाको में भी लोगों को लॉक डाउन का पालन कराने की कोशिश कर रहे पुलिसवालों पर हमला किया गया। डोंगरी इलाके में यमन देश के रहने वाले एक 25 वर्षीय आरोपी ने पुलिस पर हमला कर दिया। आरोपी ने पुलिसकर्मियों पर थूका और उनपर हमला किया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को पकड़कर पीटा जिसका वीडियो वायरल हो गया। वही शिवाजी नगर इलाके में दो पुलिसकर्मियों ने सड़क पर घूम रहे लोगों को घर में जाने की हिदायत दी। लेकिन आरोपियों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया और लाठी व क्रिकेट बैट से पुलिसवालों को पीटा। पुलिस वालों ने मदद मांगी जिसके बाद और पुलिसवाले मौके पर पहुँचे और दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। इससे पहले धारावी इलाके में पुलिस पर पत्थरबाजी की वारदात हुई थी।

14 दिनों में 1526 गिरफ्तार
मुंबई पुलिस ने 20 मार्च से 2 अप्रैल तक धारा 188 के तहत 1526 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान 224 आरोपियों को नोटिस देकर छोड़ दिया गया है जबकि 108 फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। इस दौरान पुलिस ने 791 मामले दर्ज किए हैं।

पालघर में जब्त हुए 773 वाहन
लॉक डाउन के बावजूद निजी वाहन से बिना वजह घूमने वालों के खिलाफ पालघर पुलिस ने सबसे ज्यादा सख्ती दिखाई है। इस दौरान पुलिस बिना किसी ठोस कारण के सड़कों पर निकला गए 773 वाहनों को जब्त कर चुकी हैं। पालघर पुलिस के प्रवक्ता इंस्पेक्टर हेमंत काटकर ने बताया कि पिछले तीन दिनों में ही 150 मामले दर्ज किये गए हैं। इसके अलावा मुंबई पुलिस ने भी अवैध यातायात के 275 मामलों में कार्रवाई की है।

 

कमेंट करें
Fn0d4