दैनिक भास्कर हिंदी: वन्यजीवों की सुरक्षा आवाजाही के लिए बनेंगे एनीमल वायाडक्ट, शुरू होगा रुके फोरलेन का काम

August 28th, 2018

डिजिटल डेस्क, सिवनी। मोहगांव खवासा फोरलेन के निर्माण के लिए प्रारंभिक कार्रवाई शुरू हो गई है। वन्य क्षेत्रों में वन्यजीवों खासकर बाघों की आवाजाही के लिए फ्लाई ओवर बनाये जाएंगे। निर्माण एजेंसी ने कुरई के पास बोदानाला पुलिया से लगे पेड़ों की कटाई शुरू कर दी है। 28 किमी लम्बे फोरलेन के लिए करीब 5 हजार पेड़ दोनों ओर काटे जाएंगे। करीब 850 करोड़ की लागत से बनने फोरलेन के लिए अतिक्रमण हटाने का काम भी होगा।

कहां क्या बनेगा
मिली जानकारी के अनुसार मोहगांव से खवासा तक चार फ्लाई ओवर तथा घाटी वाले भाग में 10 अंडर पासेस (एनीमल वाइडक्ट) बनेंगे। पहला फ्लाई ओवर मोहगांव व गन्डाटोला के बीच फारेस्ट एरिया में बनेगा। इसकी लम्बाई 500 मीटर होगी। दूसरा फ्लाई ओवर रूखड़ से दुधिया तालाब तक बनेगा जो लगभग 800 से 1000 मीटर तक रहेगा। तीसरा फ्लाई ओवर कुरई व मेटेवानी के बीच बनेगा जिसकी लम्बाई 500 मीटर होगी। चौथा फ्लाई ओवर खवासा के आगे महाराष्ट्र सीमा तक बनेगा जिसकी लम्बाई 300 मीटर होगी।

कुरई घाटी में अंडर पासेस
NHAI में भी वन्यजीवों की सुरक्षा के लिहाज से कुरई घाटी में अंडर पासेस बनवाएंगी। कुरई घाटी में 10 अंडरपासेस बनेंगे जो बाउडलेवल से 5 मीटर ऊंचाई पर निर्मित होंगे। ताकि बड़े वन्यजीव इधर से उधर आना जाना कर सके। फोरलेन का निर्माण सीमेंट कांक्रीट से किया जाएगा। वन्य क्षेत्र से गुजरने वाले फोरलेन मार्ग पर सड़क के ग्राउंड लेवल से तीन-तीन मीटर ऊंचाई पर एकोस्टिक नाइज बेरियर्स लगाएं जाएंगे। जो टे्रफिक के साउंड व लाईट्स को नियंत्रित करेंगे। इससे वाईल्ड लाइफ प्रभावित नहीं होगी।

फिलहाल यह हो रहा कार्य
वर्तमान में सड़क की लम्बाई व चौड़ाई के लिए चिन्हाकित जगहों से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जाएगी। वहीं पत्थर को एकत्रित करने के लिए भी काम शुरू हो गया है। खवासा में सबसे ज्यादा अतिक्रमण है जिसे हटाने के लिए भी विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

 

खबरें और भी हैं...