comScore

 वेबिनार श्रृंखला में आर्ट, लिटरेचर पर ‘कला चिंतन'

 वेबिनार श्रृंखला में आर्ट, लिटरेचर पर ‘कला चिंतन'

डिजिटल डेस्क, नागपुर । नटराज आर्ट कल्चर सेंटर और कला भारती ने संयुक्त रूप से छात्रों के लिए कला, साहित्य और सौंदर्यशास्त्र पर सात दिवसीय वेबिनार श्रृंखला का आयोजन किया है।   21 सितंबर तक दोपहर 3 से शाम 4 बजे के दरम्यान विभिन्न विषयों पर विशेषज्ञ मार्गदर्शन करेंगे। मंगलवार को मुंबई विश्वविद्यालय के ललित कला विभाग के पूर्व डीन प्रो. नरेंद्र विचारे द्वारा "प्रेजेंटेशन ऑफ प्रोफेशनल झांकियां' पर वेबिनार का आयोजन हुआ। 16 सितंबर को आर्कियालॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया के एपिग्राफी विभाग के पूर्व निदेशक डॉ. ख्वाजा रब्बानी ‘कन्सेप्ट्स ऑफ आर्ट इन मेडिएवल अरब सोसायटी' पर टिप्पणी करेंगे। 

17 सितंबर को नई दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) के डॉ. राजन का ‘वेरियस आस्पेक्ट्स ऑफ लाइब्ररी एंड इंफॉर्मेशन टाइम्स' पर मार्गदर्शन होगा। 18 सितंबर को नई दिल्ली की इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी के डॉ. ताहिर सिद्दीकी ‘इंडियन मॉडर्न आर्ट' पर बात करेंगे। 19 सितंबर को असम के सिलचर के केंद्रीय विश्वविद्यालय के डॉ. गौतम दत्ता ‘विजुअल कम्युनिकेशन, विजुअल सेन्सेशन्स एंड विजुअल परसेप्शन्स' पर टिप्पणी करेंगे। रविवार, 20 सितंबर को ईरा विश्वविद्यालय, देहरादून, उत्तराखंड की डॉ. मंदाकिनी शर्मा ‘एक्प्लोरेशन ऑफ ऐपान आर्ट : अ फोक आर्ट ऑफ उत्तराखंड' वि‍षय पर मार्गदर्शन करेंगी। वेबिनार श्रृंखला का सोमवार, 21 सितंबर को हरियाणा के रोहतक के डॉ. विनय कुमार ‘इंडियन आर्ट एंड एस्थेटिक्स' विषय पर टिप्पणी के साथ समापन होगा।

कमेंट करें
XLY7S