दैनिक भास्कर हिंदी: काम नहीं सुधरा तो रूक जाएगी वेतन वृद्धि-पालकमंत्री बावनकुले

January 8th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। अतिक्रमण को लेकर अधिकारियों की उदासीनता पर पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने क्लास ली। उन्होंने अधिकारियों को वेतन वृद्धि रोक कर कार्रवाई करने के भी संकेत दिए। बता दें शहर में जगह-जगह अतिक्रमण की समस्या है। गांधीबाग जोन अतिक्रमण की अनेक शिकायतें की गईं। शुरुआत में अतिक्रमण की शिकायतों पर पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने गौर नहीं किया , लेकिन जब शिकायतों का ढेर लग गया तो उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए  सहायक आयुक्त अशोक पाटिल से कहा कि काम सुधारें, नहीं तो वेतनवृद्धि रोकने की कार्रवाई की जाएगी। पंजीकृत हॉकर्स को छोड़कर शेष पर कार्रवाई की जाए। यह बात गांधीबाग जोन के जनता दरबार में महल स्थित जोन कार्यालय में कही।

जल नियोजन जरूरी
पालकमंत्री ने कहा कि, हमारी पहली प्राथमिकता जनता को पीने का पानी उपलब्ध करवाना है। इसके लिए किसानों को दिए जाने वाले पानी में कटौती की गई है। तीसरे नंबर पर अन्य उपयोग के लिए पानी का उपयोग है। मनपा गंदे पानी से 40 करोड़ रुपए कमाने वाली है। पॉवर स्टेशन में अब सीवर के पानी का उपयोग किया जाएगा।

पूर्व की सरकार की घोषणा में 25 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष के हिसाब से 380 करोड़  लंबित थे, जिसमें से मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने 150 करोड़ रुपए हैं, शेष भी जल्दी मिल जाएंगे। इस दौरान मंच पर महापौर नंदा जिचकार, विधायक कृष्णा खोपड़े, गिरीश व्यास, उपमहापौर दीपराज पार्डीकर, स्थायी समिति सभापति वीरेंद्र कुकरेजा, गांधीबाग जोन सभापति वंदना यंगटवार, आरोग्य समिति सभापति मनोज चापले, वरिष्ठ नगरसेवक प्रवीण दटके, दयाशंकर तिवारी, संजय बालपांडे, जुल्फेकार भुट्टो, राजेश घोडपागे, मो. इरफान अंसारी, नगरसेविका श्रद्धा पाठक, सुमेधा देशपांडे, विद्या कन्हेरे, सरला नाईक, आशा उईके, नेहा वाघमारे, सय्यदा बेगम अंसारी, अतिरिक्त आयुक्त रवींद्र ठाकरे, राम जोशी, सहायक आयुक्त अशोक पाटील आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

350 सीसीटीवी कैमरों के लिए नोटिस
हर में जगह-जगह निगरानी के लिए स्मार्टसिटी के तहत कैमरे लगाए गए हैं, लेकिन कुछ जगह बंद पड़े हैं। पालकमंत्री ने मामले में चर्चा की, तो सामने आया कि शहर के करीब 350 कैमरे बंद हैं, जिन्हें तत्काल शुरू करने के आदेश दिए। इनको चालू करने के लिए संबंधित पुलिस विभाग के अधिकारी व मनपा के कंट्रोल रूप में सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था संभालने वाले अधिकारी को नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिए।

यह शिकायतें भी आईं
-नवीन शुक्रवारी से गांधीबाग तक पार्किंग की बड़ी समस्या है। 5 साल पहले वर्क ऑर्डर निकल चुका है, लेकिन कोई काम नहीं हुआ। 
-मनपा की लीज पर दी गई जमीन पर स्ट्रक्चर खड़ा कर लोग करोड़ों रुपए कमा रहे हैं। अधिकारियों को मालूम भी नहीं है।
-मोमिनपुरा की बकरा मंडी की एक एकड़ जगह खाली पड़ी है।
-एम्प्रेस मील वसाहट में 2014 में 3 माह के अंदर 15 मीटर का रास्ता बनाकर देना था, जो अब तक नहीं बना।
-सिर्फ आधा घंटे पानी आता है। गंगाबाई घाट पर गंदगी, वार्ड नगरसेवक काे मालूम नहीं है।
-पट्टे वितरण की सूची में नगरसेविका और उसके 25 परिवार वालों का नाम है।


 

खबरें और भी हैं...