बाल-बाल बची जान: भंडारा : उड़ान पुल से नीचे सर्विस रोड पर गिरा 18 पहिया कंटेनर

November 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, लाखनी (भंडारा) । प्लास्टिक दाना भरकर नागपुर से रायपुर की दिशा में जा रहा तेज रफ्तार 18 पहिया कंटेनर अनियंत्रित होकर उड़ान पुल की सुरक्षा दीवार को घसीटते हुए शहर के सर्विस रोड पर गिर गया। दुर्घटना में कंटेनर चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। विशालकाय माल लदा कंटेनर ऊपर से नीचे गिरने से शहरवासियों में हड़कंप मच गया।  दुर्घटना में कंटेनर के दो टुकड़े हो गए। कंटेनर का हिस्सा पिचककर माल सड़क पर फैल गया।  हादसा लाखनी शहर में लाखोरी मोड के पास राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 53 पर घटित हुआ । कंटेनर के चालक का नाम राजस्थान के अलवर जिले के बिजवा गांव के इकबाल इसाक खान (34) बताया जा रहा है। उसे लाखनी पुलिस ने तत्काल स्थानीय ग्रामीण अस्पताल में पहुंचाया। गंभीर घायल चालक को वहा से भंडारा के जिला अस्पताल में रेफर किया गया।

जानकारी के अनुसार प्लास्टिक दाना लदा कंटेनर क्रमांक एनएल 01 एएफ 2950 नागपुर से रायपुर की ओर जा रहा था। इस दौरान लाखनी शहर के उड़ान पुल पर पहुंचते ही तेज रफ्तार कंटेनर के चालक इकबाल इसाक खान का वाहन से नियंत्रण छूट गया और वाहन उड़ान पुल के सुरक्षा दीवार को घसीटते हुए नीचे सर्विस रोड पर गिर गया। दुर्घटना में कंटेनर व उसका कैबिट दो  हिस्सों में बंट गए। इस हादसे की गूंज एक किलोमीटर तक सुनाई दी। दुर्घटना की आवाज सुनकर लाखनी शहरवासियों की भीड़ लग गई । लाखनी पुलिस थाने के थानेदार पुलिस निरीक्षक मिलिंद तायडे ने मौके पर पहुंचकर गंभीर रूप से घायल कंटेनर चालक को पुलिस वाहन से ग्रामीण अस्पताल पहुंचाया। वहां पर प्राथमिक इलाज के बाद चालक इकबाल इसाक खान (34) को जिला अस्पताल में रेफर किया गया। कंटेनर के इंजन से धुआं निकलता देख पुलिस ने इंजन पर पानी का छिडकाव कराया। मौके से भीड़ हटायी गई। दुर्घटनाग्रस्त कंटेनर को देखने के लिए दुसरे दिन सुबह तक नागरिकों की भिड़ लगती रही। सुबह कंटेनर  का माल किनारे कर वाहन को हटाया गया। दुर्घटना के समय गडेगांव के महामार्ग पुलिस केंद्र के प्रभारी प्रमोदकुमार बघेल व उनकी टीम ने मौके पर भेंट दी।  मामले की जांच पुलिस निरिक्षक मिलिंद तायडे के मार्गदर्शन में शुरू है।

बाल बाल बचे स्थानीय नागरिक

कंटेनर शहर के जिस हिस्से में गिरा वहा हमेशा नागरिकों का आवगमन लगा रहता है। रात्रि के समय नागरिक भोजन के बाद उड़ान पुल के नीचे टहलते हैं। पुल नीचे दोनों छोर पर दुकानें हैं। बिजली की तारें बिछी  है।  दुर्घटना में सौभाग्यवश किसी तरह की जीवित हानि नही हुई।