दैनिक भास्कर हिंदी: Lockdown: बिहार में 8 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, व्यापार के लिए मिलेगी छूट, CM नीतीश कुमार ने किया एलान

May 31st, 2021

डिजिटल डेस्क, पटना। देश में कोरोना से संक्रमितों की संख्या में पहले की अपेक्षा गिरावट देखने को मिल रही है। लेकिन कई राज्यों में अब भी हालात ठीक नहीं हैं। इनमें बिहार भी शामिल है। यहां लगातार बढ़ रही कोरोना मरीजों को देखते हुए लॉकडाउन लगाया गया था। इस लॉकडाउन को अब 8 जून तक बढ़ा दिया गया है। सीएमजी की बैठक के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है, कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए लॉकडाउन को 8 जून तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने लिखा है कि, व्यापार के लिए अतिरिक्त छूट दी जा रही है। सभी लोग मास्क पहनें और सामाजिक दूरी बनाए रखें।

आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार में राज्य सरकार ने पांच मई से लॉकडाउन लगाया था। वहीं सोमवार को जिलों की समीक्षा की गई। जिसमें कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या पर चर्चा भी की गई। इस दौरान रिपोर्ट्स देखी गईं और अधिकारियों से इस विषय पर चर्चा कर निर्णय लिया गया।

इस निर्णय से पहले भी बिहार सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया था। इस दौरान लॉकडाउन को 15 मई बढ़ाकर 25 तक फिर किया गया था। जबकि दूसरी बार में 25 मई के बाद हुई सीएमजी की बैठक में इसे एक जून तक किया गया था।

बता दें कि बिहार में इन दिनों आवश्यक सामग्री की दुकानों के खुलने का समय शहरी इलाकों में सुबह 6 से 10 बजे तक है। वहीं ग्रामीण इलाकों में यह समय सुबह 8 से 12 बजे तक है। हालांकि इन दुकानों के खुलने की समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। साथ ही 1 जून के बाद कपड़े और कुछ दूसरी अन्य दुकानों को भी खोलने की छूट दिए जाने की भी संभावना है।

कोरोना के मामलों पर एक नजर
बिहार में कोरोना के प्रति दिन आने वाले मामलों पर गौर करें तो लॉकडाउन के बाद इनमें निरंतर कमी देखी गई है। 25 मई को यहां 3,306 केस दर्ज किए गए थे। इसके बाद लॉकडाउन की मियाद बढ़ाने से पहले 24 मई को यहां 2 हजार 844 मामले सामने आए थे। इसके पहले 23, 22 और 21 को क्रमश: 4,002, 4,375 और 5,154 मामले देखे गए थे।

बीते एक सप्ताह के आंकड़ों पर नजर डालें तो 25 मई के बाद नए कोरोना संक्रमितोंं में कमी तेजी से आई है। 26 मई को यहां 2,603 केस सामने आए। इसके बाद 27,28 29 को क्रमश: 2,568, 1,785, 1,491, और 30 मई को 1,475 मामले सामने आए थे।