comScore

बाइक चोर गिरोह का पर्दाफाश, 10 आरोपी गिरफ्तार, 16 बाइक बरामद

July 29th, 2018 18:43 IST
बाइक चोर गिरोह का पर्दाफाश, 10 आरोपी गिरफ्तार, 16 बाइक बरामद

डिजिटल डेस्क, सतना। सिटी कोतवाली पुलिस ने वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश करते हुए 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, जिनके कब्जे से 16 बाइक बरामद की गई। पूछतांछ में कुछ और गाड़ियां मिलने की संभावना जताई जा रही है। शनिवार दोपहर को कंट्रोल रूम में उक्त जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर ने बताया कि जिले भर में चलाए जा रहे अभियान के दौरान शुक्रवार शाम को एक युवक संदिग्द्ध परिस्थितियों में बाइक के साथ पकड़ा गया, जिसके पास गाड़ी के कागजात नहीं थे। उसने पूछताछ में अपने दोस्त से बाइक खरीदने का खुलासा किया, जिस पर दूसरे युवक को पकड़ा गया। इस तरह एक-एक कर 7 लोगों को गिरफ्तार कर 16 बाइक बरामद की गई। इस मौके पर एएसपी आरएस प्रजापति, सीएसपी वीडी पांडेय, सिविल लाइन TI पुरषोत्तम पांडेय मौजूद रहे।

ऐसे हुई शुरूआत
सिविल लाइन थाना क्षेत्र के अहरी टोला निवासी आलोक सिंह पुत्र केके सिंह की स्प्लेंडर-प्रो बाइक क्रमांक एमपी 19 एमएच 2069 अज्ञात बदमाश ने पार कर दिया था, जिसकी रिपोर्ट सिटी कोतवाली में दर्ज कराई गई थी। शुक्रवार शाम को जब पुलिस टीम वाहन चेकिंग कर रही थी, तब उक्त बाइक लेकर एक युवक वहां से गुजरा तो पुलिस कर्मियों ने रोककर कागजात व लाइसेंस दिखाने के लिए कहा, लेकिन वह कुछ भी प्रस्तुत नहीं कर पाया।  जिस पर इंजन व चेसिस नंबर को आरटीओ की वेबसाइट पर डालकर देखा गया तो गाड़ी मालिक के रूप में आलोक का नाम सामने आया, जिनके आवेदन पर अपराध क्रमांक 419/18 धारा 379 पंजीबद्ध था। ऐसे में सख्ती से पूछतांछ की गई तो भरत वर्मा नामक युवक ने अपने दोस्त अनित विश्वकर्मा पुत्र रामलखन 24 वर्ष निवासी मझगवां से गाड़ी खरीदने का खुलासा किया, लिहाजा पुलिस टीम ने गांव में दबिश देकर अनित को पकड़ लिया।

जिसने बताया कि जवाहर नगर गली नंबर 6 निवासी आशीष सिंह सोलंकी उर्फ मंजा पुत्र हेमराज सिंह 24 वर्ष से 5 हजार रूपए में खरीदकर 7 हजार में भरत को बेंच दिया था। मंजा का नाम आते ही पुलिस टीम के कान खड़े हो गए। उक्त युवक वाहन चोरी में कई बार गिरफ्तार होकर जेल की हवा खा चुका है, लेकिन हर दफा छूटते ही वारदात में लिप्त हो जाता है। जिस पर कई टीमें बनाकर तमाम संभावित ठिकानों पर दबिश देते हुए मंजा को पकड़ लिया गया। उसके कब्जे से चोरी की 3 बाइक भी जब्त की गई। 

दूसरी बार में बरामद कराई 8 गाड़ियां
मंजा के अपराधिक रिकार्ड को देखते हुए एक बार फिर कड़ी पूछताछ की गई, जिसमें आरोपी ने विपिन कुशवाहा पुत्र रामाधार 30 वर्ष और तिलकराज कुशवाहा पुत्र रामबिहारी 24 वर्ष निवासी धनेह थाना उचेहरा को बेची गई, दो गाड़ियां जब्त कराई तो जिगनहट नाले के पास छिपाई गई 6 बाइक भी बरामद करा दी। इतना ही नहीं आरोपी ने आधा दर्जन बाइक अन्य लोगों को बेचने का रहस्य भी उजागर किया, जिनकी जब्ती के प्रयास  पुलिस के द्वारा किए जा रहें हैं। 

मौका मिलते ही उड़ा देता था गाड़ियां
इस पूरे मामले में आशीष सोलंकी उर्फ मंजा ने ही सभी बाइक अलग-अलग जगह से चोरी की है। वह इतना शातिर है कि पलक झपकते ही बाइक पार कर देता है। इस सब में गाड़ी मालिकों की लापरवाही चोर के लिए मददगार साबित हुई। अधिकांश लोगों ने सुरक्षा के जरूरी उपाय नहीं किए थे, वहीं बदमाश ने ऐेसे स्थानों को चुना, जहां पार्किंग में गार्ड या सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। इन्हीं खामियों का फायदा उठाकर मंजा व उसके साथी धड़ाधड़ चोरियां कर रहे थे। 

सिविल लाइन पुलिस ने 6 गाड़ियां पकड़ी
उधर सिविल लाइन पुलिस ने आरोपी अतुल पाठक, रामकृष्ण बागरी व उत्कर्ष तिवारी को गिरफ्तार कर 6 बाइक बरामद की, जिनको मंजा ने ही गाड़ी चुराकर भेजा था। उक्त आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। 
खरीददार भी बने आरोपी पुलिस की कार्यवाही में पकड़े गए 9 आरोपी चोरी की गाड़ियां खरीदकर इस्तेमाल कर रहे थे, लिहाजा उन्हें आरोपी बनाया गया है। इस सूची में और नाम जुड़ सकते हैं। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि किसी को भी बक्शा नहीं जाएगा।

ये गाड़ियां मिलीं-
सभी गाडिय़ों की असली नंबर प्लेट हटाकर फर्जी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट लगाई गई थी। ऐसे में इंजन के चेसिस नंबर से गाड़ी मालिकों की पहचान की गई। जब्त की गई मोटर सायकिलों में एमपी 19 एमएच 2065 रामपाल सेन निवासी हनुमान नगर नई बस्ती, एमपी 19 एमएम 1480 गौरव तिवारी निवासी बारीकला, एमपी 04 केएम 2802 देवेन्द्र कुमार त्रिपाठी निवासी भोपाल, एमपी 19 एमजी 8580 रमेश कुमार साहू निवासी शुक्ला बरदाडीह, एमपी 19 एमएन 9982, आशीष सुधीरंजन विश्वकर्मा निवासी अमरपाटन, एमपी 17 एमएम 3482 आदित्य सिंह निवासी बनकुइयां रोड बिहरा जिला रीवा, एमपी 19 एमएम 7124, राजाराम कुशवाहा निवासी इटौर खुर्द नागौद  , एमपी 17 एमई 8245 जितेन्द्र कुमार कुशवाहा निवासी रीवा, एमपी 19 एमएच 2069 आलोक सिंह अहरी टोला सिविल लाइन, एमपी 19 एमएच 9685 रजनीश कुमार गुप्ता निवासी बगहा, एमपी 19 एमएल 6879 आशीष कुमार चौधरी निवासी खम्हरिया, एमपी 19 एमएच 9571 उमेश कुमार वर्मा निवासी खम्हरिया-पुरैनी जागीर-जिला रीवा, एमपी 19 एमसी 2077 रामपाल सेन निवासी हनुमान नगर नई बस्ती शामिल हैं। जबकि हीरो हॉन्डा सीबी जेड, टीवीएस विक्टर और हॉन्डा लीबो के रिकार्ड नहीं मिले। 

कमेंट करें
0ya6r