दैनिक भास्कर हिंदी: फडणवीस के मामले में पुलिस आयुक्त से मिले भाजपा विधायक 

May 4th, 2020

डिजिटल डेस्क,  नागपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़णवीस को सोशल मीडिया पर ट्रोल करने के मामले को भाजपा ने गंभीरता से लिया है। शहर भाजपा की ओर  से पुलिस आयुक्त डॉ.भूषणकुमार उपाध्याय को सोमवार को निवेदन सौंपा। पार्टी के विधायकों की उपस्थिति में कहा गया है कि राज्य सरकार की ओर से विपक्ष पर दबाव बनाया जा रहा है> धमकाने व बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। उनका जवाब देने पर भाजपा कार्यकर्ताओं के िवरुद्ध एफआईआर दर्ज करायी जा रही है।

क्या है शिकायत
भाजपा की िशकायत है कि फड़णवीस का एनकाउंटर करने की धमकी दी जा रही है। राज्यपाल भगतसिंह कोशियारी को लेकर भी अशोभनीय बातें की जाती है। सोशल मीडिया पर सत्ता पक्ष की ओर से विपक्ष को बदनाम करने करने का प्रयास किया जा रहा है। फडणवीस विविध विषयों को लेकर सवाल उठाते हैं। आर्थिक सहित अन्य मामलों पर वे अपनी बात रखते हैं। तब सत्ता पक्ष के कार्यकर्ता फडणवीस को लेकर सोशल मीडिया पर निराधार चैट करने लगते हैं। राज्य में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है। एक समाचार चैनल के पत्रकार के विरुद्ध मामला दर्ज कराकर पत्रकार से पुलिस 10 से 12 घंटे तक पूछताछ करती है।

 राज्य के मंत्री भी नियमों का उल्लंघन करने लगे हैं। पुलिस पर हमले होने लगे हैं। लिहाजा इन मामलों पर िनयंत्रण की मांग पुलिस से की गई है। सोशल मीडिया पर उत्तर देने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध पुलिस थाने में प्रकरण दर्ज कराने का सिलसिला कम नहीं हुआ है। लाकडाऊन में फंसेे लोगों को आवश्यक होने पर आने जाने के लिए पुलिस की ओर से दी जाने वाली अनुमति के मामले में दिक्कत की जानकारी भी पुलिस आयुक्त को दी गई। निवेदन सौंपते समय भाजपा के शहर अध्यक्ष प्रवीण दटके, महापौर संदीप जोशी, विधायक कृष्णा खोपड़े, विधायक मोहन मते, विधानपरिषद सदस्य गिरीश व्यास, विधानपरिषद सदस्य अनिल सोले उपस्थित थे
 
एक शिकायत यह भी
भाजपा ने किसी अधिकारी का नाम लिए बगैर कहा है कि शहर में पुलिस पर भी दबाव है। प्रशासन के बड़े अधिकारी के कारण पुलिस को अपना कार्य करने में अड़चन आती है। भाजपा ने इस मामले को निंदनीय कहा है। 


 

खबरें और भी हैं...