दैनिक भास्कर हिंदी: मंत्री राजेन्द्र शुक्ल पर प्रताड़ना के आरोप, सदन में फूट-फूट कर रोई बीजेपी विधायक

June 26th, 2018

हाईलाइट

  • भाजपा विधायक नीलम मिश्रा ने खनिज मंत्री राजेन्द्र शुक्ल पर आरोप लगाया।
  • उनका कहना है कि खनिज का मुद्दा उठाने पर मंत्री के दबाव में पुलिस उन्हें और उनके परिवार को प्रताड़ित कर रही है।
  • उन्होंने उनके पति के एनकाउंटर का भी खतरा बताया।

डिजिटल डेस्क, भोपाल। रीवा के सेमरिया से भाजपा विधायक नीलम मिश्रा ने मंगलवार को विधानसभा में अपनी ही सरकार को घेरा। उन्होंने खनिज मंत्री राजेन्द्र शुक्ल पर आरोप लगाया कि खनिज का मुद्दा उठाने पर मंत्री के दबाव में पुलिस उन्हें और उनके परिवार को प्रताड़ित कर रही है। इतना ही नहीं उन्होंने उनके पति के एनकाउंटर का भी खतरा बताया। इस मामले को लेकर वह सदन में आसंदी के सामने धरने पर भी बैठ गई। वह फूट फूट कर रोने लगी। हालांकि गृहमंत्री के आश्वासन के बाद उन्होंने धरना खत्म किया।

फूट-फूट कर रोई नीलम मिश्रा
क्या भाजपा विधायक नीलम मिश्रा कांग्रेस में शामिल होने जा रही है?.. क्या नीलम मिश्रा को शिवराज कैबिनेट के मंत्री से जान का खतरा है?... क्या कांग्रेस के इशारे पर नीलम मिश्रा अपनी ही पार्टी पर आरोप लगा रही है?... क्या भाजपा विधायक के पति अभय मिश्रा का एनकाउंटर हो सकता है? ये वो सवाल है जो मध्य प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन सदन में सुनाई दिए। रीवा के सेमरिया से बीजेपी विधायक नीलम मिश्रा ने सदन में आरोप लगाए कि खनिज का मुद्दा उठाने की वजह से उनके पति को गिरफ़्तार किया गया और पूरे परिवार को लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है। आरोप ये भी है कि मंत्री राजेन्द्र शुक्ल के दबाव में पुलिस काम कर रही है। मंगलवार को कार्यवाही के दौरान नीलम सदन में आसंदी के सामने धरने पर बैठ गई और फूट फूट कर रोने लगी। गुस्से से भरी नीलम मिश्रा ने इस्तीफे की धमकी तक दे दी।

जिसने मच्छर नहीं मारा वो किसी को जान से क्या मारेगा
खनिज मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने उनपर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया उन्होंने कहा कि जिसने कभी एक मच्छर नहीं मारा वो किसी को जान से क्या मारेगा। वहीं गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने उन्हें सुरक्षा का पूरा भरोसा दिलाया उन्होंने ये भी कहा कि नीलम मिश्रा पार्टी नहीं छोड़ रही है। पार्टी उनसे अपने स्तर पर बात कर रही है। वहीं नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि मैं आश्चर्यचकित हूं। उन्होंने कहा कि नीलम के पति अभय मिश्रा जो पूर्व बीजेपी विधायक रहे है वर्तमान में जिला पंचायत अध्यक्ष है। जब से वह कांग्रेस में शामिल हुए है उनके परिवार को प्रताड़ित किया जा रहा है। कांग्रेस में शामिल होने की दुश्मनी उनसे निकाली जा रही है। उन्होंने उम्मीद जताई की सीएम शिवराज सिंह चौहान इस मामले में संज्ञान लेंगे और उचित कार्यवाई करेंगे।

रीवा रेंज आईजी को भी की थी शिकायत
बता दें कि नीलम मिश्रा ने दो दिन पहले रीवा रेंज के आईजी उमेश जोगा को भी इस मामले को लेकर पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने आरोप लगाए थे कि रीवा एसपी स्थानीय मंत्री के दबाव में काम कर रहे हैं, उनके पति का कभी भी एनकाउंटर हो सकता है। वहीं उन्होंने कहा था कि वह एसपी को समझाएं कि मंत्री की चापलूसी बंद करें।