दैनिक भास्कर हिंदी: Delhi Murder: रिंकू शर्मा की हत्या के बाद इलाके में बढ़ा तनाव, बीएसएफ की तैनाती, जानिए क्या है पूरा मामला?

February 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा नाम के युवक की हत्या के बाद तनाव बढ़ गया है। मृतक रिंकू के परिवार के लोगों ने दिल्ली पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। रिंकू के भाई ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को लिखे एक पत्र में आरोपियों का नाम लेकर कहा कि इन लोगों द्वारा मेरे परिवार पर लाठी-डंडों और चाकू से हमला किया गया। इस हमले में रिंकू शर्मा की मौत हो गई। ऐसे में मुझे और मेरे परिवार को दिल्ली पुलिस से सुरक्षा मुहैया कराई जाए। वहीं तनाव को बढ़ता देख रिंकू के घर के पास बीएसएफ की तैनाती की गई है। 

परिवार का आरोप है कि राम मंदिर से जुड़े रहने और राम यात्रा निकालने के कारण ये हत्या हुईं है। रिंकू की मां ने कहा, लाठी, डंडे और चाकू के साथ 30 से 40 लोग थे। उन्होंने कहा, 'जब मेरे बेटे को मारा जा रहा था, उस समय भी वह 'जय श्री राम' कह रहा था। हालांकि पुलिस ने इस हत्या की वजह रेस्तरां को बंद करने पर शुरू हुए विवाद को बताया है। इस हत्याकांड के बाद मंगोलपुरी पुलिस ने 5 आरोपी नसरुद्दीन, ताजुद्दीन, मोहम्मद इस्लाम, जाहिद और मोहम्मद मेहताब को गिरफ्तार किया है।   दिल्ली के एसीपी एस. धामा ने कहा कि झगड़ा एक रेस्तरां को बंद करने पर शुरू हुआ, और कोई मकसद तथ्यात्मक रूप से गलत है।

पुलिस ने कहा, 25 वर्षीय रिंकू 10 फरवरी को मंगोलपुरी में अपने घर के पास अपने दोस्त बाबू के जन्मदिन की पार्टी में गया था। पांचों आरोपी भी पार्टी में थे। वे सभी पड़ोसी थे और सभी एक-दूसरे को लंबे समय से जानते थे। पार्टी में बहस और झगड़ा हुआ, जिसके बाद रिंकू शर्मा कथित तौर पर घर चला गया। पुलिस ने कहा कि पांच लोगों ने रिंकू का पीछा किया और चाकू से उस पर हमला कर दिया। घर के पास हुई लड़ाई के सीसीटीवी फुटेज में, एक ग्रुप को देखा जा सकता है, जो लाठी और हथियारों से लैस है। पुलिस ने कहा, अब तक, जांच के दौरान, यह सामने आया है कि जन्मदिन की पार्टी के दौरान एक रेस्तरां के बंद होने पर झगड़ा  शुरू हुआ। यह बिजनेस राइवलरी थी।

राम मंदिर से जुड़े रहने और राम यात्रा निकालने के कारण हत्या के आरोपों के बाद बीजेपी से लेकर वीएचपी तक ने इसमें कूद पड़े हैं। वीएचपी के मुताबिक, कुछ लोग जिस तरह से धार्मिक तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं, रिंकू की हत्या उसी जहर का परिणाम है। दिल्ली से भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया। जिसमें वे कह रहे हैं कि अगर रिंकू का नाम रेहान होता तो उसकी हत्या देश की सबसे बड़ी खबर होती। हर नेता उसके दरवाजे पर होता। रिंकू शर्मा जी की हत्या दिल्ली में ऐसा पहला अपराध नहीं है। अंकित सक्सेना, ध्रुव त्यागी, डॉ नारंग, राहुल, अंकित शर्मा सब को ऐसे ही तो मारा गया।

इस हत्याकांड के बाद सोशल मीडिया पर #JusticeForRinkuSharma #HindusLivesMatter ट्रेंड कर रहा है। ऐसे में एक्ट्रेस कंगना रनौत ने एक यूजर के पोस्ट को री-पोस्ट करते हुए लिखा, ‘सॉरी, हम नाकाम हुए।’ कंगना ने एक दूसरे पोस्ट को री-पोस्ट करते हुए लिखा है, ‘इस पिता के दर्द को महसूस करो और अपने बच्चों या फैमिली मेंबर्स के बारे में सोचो। एक और दिन, एक और हिंदू की सिर्फ जय श्रीराम कहने पर लिंचिंग की गई।’ बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी इस पर ट्वीट किया।

आम आदमी पार्टी (AAP) का भी इस घटना पर  बयान आया है। इसमें कहा गया कि जिन्होंने भी यह किया है, उन्हें सख्त से सख्त सजा होनी चाहिए। जेल में डालना चाहिए। कड़ी कानूनी धाराओं के तहत कार्रवाई होना चाहिए। साथ ही पार्टी ने इस मामले को सांप्रदायिक रंग न देने की अपील की है।

खबरें और भी हैं...