दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर में भाजयुमो उपाध्यक्ष की हत्या, दो गिरफ्तार

June 2nd, 2020

डिजिटल डेस्क. नागपुर। कोतवाली क्षेत्र के गंगाबाई घाट भूतेश्वरनगर में कुछ आरोपियों ने भारतीय जनता युवा मोर्चा के शहर उपाध्यक्ष राज विजयराज डोरले (28) की हत्या कर दी। राज अपनी स्कूटी पर सवार होकर घर की ओर जा रहा था। इस दौरान घात लगाकर बैठे आरोपियों ने राज को उसके घर से कुछ दूर पहले ही चारों ओर से घेर कर हत्या कर दी गई। सभी आरोपी वहां फरार हो गए। हमलावरों की संख्या 4 से अधिक बताई जा रही है। पुलिस ने फिलहाल दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों के नाम मुकेश नीलकंठ नारनवरे (27) और अंकित विजयराज चतुरकर (21) भूतेश्वर नगर निवासी है।

राज डोरले की हत्या करने वाले आरोपियों में कुछ भाजयुमो के ही कार्यकर्ताओं का नाम सामने आ रहा है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।  शहर में लॉकडाउन शुरू होने के कुछ दिनों पहले सारंग बावनकुले के साथ आरोपी मुकेश नारनवरे का विवाद हो गया था। इस दौरान राज डोरले ने सारंग को बचाकर मध्यस्थता की थी। यह बात मुकेश को खटकने लगी थी। राज नहीं चाहता था कि बस्ती के अंदर कोई अपनी दादागिरी की हूकुमत चलाए। राज डोरले का परिसर काफी नाम था। इससे आरोपी मुकेश नारनवरे को जलन होने लगी थी। परिसर में चर्चा यह भी है कि राजनीतिक वर्चस्व की लड़ाई के चलते आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया। 

एक नेता ने शामिल कराया था भाजपा में 
सूत्रों के अनुसार राज की हत्या से राजनीतिक गलियारे में खलबली मच गई है। यह परिसर में धूमधाम से दुर्गोत्सव का आयोजन करता था। दो साल पहले ही उसने भाजपा के एक नेता के कहने पर राजनीति में कदम रखा था। वह भाजयुमो का शहर उपाध्यक्ष था।

कोतवाली थाने में दाखिल हुई थी एनसी
राज ने शहर में लॉकडाउन होने के कुछ दिन पहले आरोपी मुकेश नीलकंठ नारनवरे ( 27) भूतेश्वर नगर, नागपुर व सारंग बावनकुले के बीच विवाद होने पर मध्यस्थता की थी। तब राज ने सारंग बावनकुले का पक्ष लिया था। यह बात मुकेश को ठीक नहीं लगी थी। विवाद का यह मामला उस समय कोतवाली थाने तक पहुंचा था तब पुलिस ने राज, सारंग और मुकेश के खिलाफ एनसी (असंज्ञेय अपराध) दाखिल किया था।

खटकने लगी थी राज की लोकप्रियता
इधर राज की राजनीतिक लोकप्रियता भी मुकेश को खटकने लगी थी। कोतवाली थाने में एनसी का मामला दाखिल होने के बाद से मुकेश भूमिगत हो गया था। लॉकडाउन शुरू होने के बाद बस्ती में वह नजर आने लगा था। मुकेश के साथ बाहर के युवकों का कुछ दिनों से झुंड भी देखा जा रहा था। मृतक के रिश्तेदारों व करीबियों ने हत्या की इस वारदात में विक्की, शुभम, सागर और कार्तिक के शामिल होने की आशंका जताई है। यह सभी मुकेश के साथ लॉकडाउन शुरू होने के बाद से साथ में रहते थे।