दैनिक भास्कर हिंदी:  नाबालिग प्रेमिका की मौत के बाद प्रेमी ने  लगाई फांसी

April 20th, 2019

डिजिटल डेस्क, सीधी। शहर के अमहा मोहल्ला में किराये के मकान में रहने वाली नाबालिग प्रेमिका ने पहले फांसी के फंदे पर झूलकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। प्रेमिका के मौत की खबर पाते ही पशु चिकित्सा कार्यालय सीधी में पदस्थ भृत्य ने भी कार्यालय के पीछे छज्जे में फांसी का फंदा लगाकर मौत को गले लगा लिया।

विवाह में थी पारिवारिक अड़चन
मिली जानकारी के अनुसार अमहा मोहल्ला में कृष्णचंद्र गुप्ता के मकान में किराये से रहने वाले कुसमी थानान्तर्गत गोतरा गांव के परिवार की 17 वर्षीय किशोरी का प्रेम प्रसंग कुछ समय से पशु चिकित्सक कार्यालय सीधी में पदस्थ भृत्य अविनाश सिंह गोंड़ 22 वर्ष से चल रहा था। बताया गया है कि कुछ पारिवारिक रूकावटें आने के कारण ऐसी स्थिति निर्मित हो गई थी कि प्रेमी जोड़ों का विवाह नहीं हो पा रहा था। संभवत: इसी के चलते किशोरी शाम करीब 5.30 बजे कमरे का दरवाजा बंद कर फांसी के फंदे में झूल गई। छोटी बहन को कुछ काम के सिलसिले में बड़ी बहन ने कमरे से बाहर भेज दिया था। छोटी बहन के लौटने एवं काफी दरवाजा पीटने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो उसने भोपाल से आये अपने भाई केा सूचना दी। बड़े भाई ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा खुलवाने का प्रयास कियाा और नाकाम होने पर कोतवाली पुलिस को सूचना दी। उपनिरीक्षक गरिमा त्रिपाठी ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोडने के बाद अंदर गये जहां वह फांसी के फंदे पर झूल रही थी। पुलिस द्वारा पंचनामा कार्रवाई के पश्चात लाश को पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया जहां पीएम बाद लाश परिजनों को सौंप दिया गया।

कार्यालय के छज्जे पर प्रेमी ने लगाई फांसी
प्रेमिका की मौत के बाद प्रेमी भी फांसी के फंदे पर झूल गया जिससे उसकी भी मौत हो गई। बताया गया है कि पशु चिकित्सा विभाग सीधी के उपसंचालक डॉ. एमपी गौतम को शासकीय आवास मे रात करीब 9.30 बजे  चपरासी लक्ष्मण प्रसाद ने बताया कि पुराने पशु चिकित्सा कार्यालय के पीछे वाली दीवार के छत के छज्जे पर फांसी लगाकर एक आदमी लटक रहा है जिसकी मृत्यु हो गई है। जिसके बाद उपसंचालक अपने अन्य कर्मचारियों के साथ मौके पर पहुंचे और मोबाइल के टार्च से देखा तो ज्ञात हुआ कि फांसी के फंदे में लटक रहा व्यक्ति कार्यालय का भृत्य अविनाश सिंह गोंड़ है जो वर्तमान समय में चुनाव कार्य में ड्यूटी कर रहा था। कोतवाली पुलिस को यह सूचना मिलने पर घटना स्थल पर पहुंचकर पंचनामा कार्रवाइ के बाद लाश केा पोस्टमार्टम के लिये भेजा।