दैनिक भास्कर हिंदी: रक्षाबंधन मनाने के बाद मुंबई-वर्धा और गोंदिया में सड़क हादसों ने ली भाई-बहनों की जान

August 28th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रक्षाबंधन और उसके दूसरे दिन मुंबई-वर्धा और गोंदिया में सड़क हादसों ने भाई-बहनों की जान लेली। पहला मामला मुंबई के नाशिक महामार्ग का है। जहां गड्ढो के चलते दो पहिया वाहन पर सवार भाई-बहन की रक्षाबंधन के दिन मौत हो गई। जबकि इनके माता-पिता अस्पताल में भर्ती है। आसनगांव में रिश्तेदारों के घर से रक्षाबंधन मना कर प्रकाश बारकू घरत अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ अपने दुपहिया वाहन से घर लौट रहे थे। जब वे मुंबई-नाशिक महामार्ग में पहुंचे तो सड़क पर मौजूद गड्ढे के चलते उनका संतुलन बिगड गया और सभी लोग गाड़ी से नीचे गिर गए। तभी दूसरी ओर से आ रहे वाहन ने उनकी 15 वर्षीय बेटी कामिनी व 10 वर्षीय बेटे सचिन को कुचल दिया। दोनों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। जबकि प्रकाश व उनकी पत्नी रेखा को गंभीर चोट लगी। दोनों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि पुलिस उस वाहन चालक की तलाश कर रही है जिसने भाई-बहन को कुचला है।

रक्षाबंधन मनाकर लौट रहा परिवार हुआ हादसे का शिकार
सोमवार सुबह और रविवार देर रात वर्धा और गोंदिया जिले में घटी दो दुर्घटनाओं में चार लोगों की मृत्यु हो गई जबकि पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। वर्धा की समुद्रपुर तहसील अंतर्गत क्षेत्र में महामार्ग नंबर 7 स्थित शेडगांव चौराहे के पास परिवार की कार तेज रफ्तार बोलेरो से टकरा गई। सोमवार सुबह 9 बजे घटी इस दुर्घटना में कांढली निवासी नक्ष नरेंद्र मानकर और वर्धा निवासी छाया प्रमोद थुल की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि अश्विनी नरेंद्र मानकर, पवित्रता सुधीर पाटील, सुधीर रामकृष्ण पाटील, महानंदा संभाजी ढोले, आर्यन थुल गंभीर रूप से घायल हो गए।

इसी तरह गोंदिया जिले की सड़क अर्जुनी तहसील अंतर्गत क्षेत्र में रविवार देर रात घटी दुर्घटना में पिता-पुत्र की मृत्यु हो गई।  सड़क अर्जुनी के डुग्गीपार पुलिस थानांतर्गत कोहमारा-नवेगांव बांध मार्ग पर दुपहिया वाहन को अज्ञात वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी। जिससे दुपहिया सवार कोहड़ीटोला निवासी दीनदयाल श्यामराव किरसान  एवं आर्यन दीनदयाल किरसान ने दम तोड़ दिया। 
 

खबरें और भी हैं...