comScore

एटीसी टॉवर के नीचे से हटाए विमान कंपनियों के कार्गो , सुरक्षा कारणों के चलते लिया निर्णय

एटीसी टॉवर के नीचे से हटाए विमान कंपनियों के कार्गो , सुरक्षा कारणों के चलते लिया निर्णय

डिजिटल डेस्क, नागपुर। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय विमानतल नागपुर स्थित एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) टॉवर के नीचे स्थित सभी विमान कंपनियों के टॉवरों को हटा दिया गया है। विमानतल प्रशासन ने सुरक्षा कारणों के चलते यह निर्णय लिया है, क्योंकि टॉवर के नीचे विभिन्न विमान कंपनियों के कार्गो होने के कारण कुछ भी एटीसी टॉवर तक पहुंच सकता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। 

करीब 200 मीटर दूर शिफ्ट किया जा रहा है  
जानकारी के अनुसार एटीसी टॉवर पुरानी टर्मिनल बिल्डिंग में बना हुआ है। समय के साथ-साथ बदलाव होते गए और नई टर्मिनल बिल्डिंग से यात्रियों का आना-जाना आरंभ हो गया। इसके बीच पुरानी टर्मिनल बिल्डिंग में एटीसी टॉवर के नीचे कार्गो को स्थापित कर दिया गया, जिसमें इंडिगो, गो एयर, कतर एयरवेज, एयर अरेबिया, जेट एयरवेज और एयर इंडिया के कार्गो थे। इसमें जेट एयरवेज पहले ही बंद हो चुका है। शेष को वहां से अलग-अलग भेज दिया गया, जबकि एयर इंडिया को शिफ्ट करने की दिशा में काम चल रहा है। विशेष बात यह है कि, सभी कार्गो को एटीसी से करीब 200 मीटर दूर शिफ्ट किया जा रहा है, ताकि एटीसी को किसी भी प्रकार का नुकसान न पहुंचे।

क्या है सुरक्षा कारण 
बता दें कि देश में सुरक्षा कारणों को लेकर नागपुर ज्यादातर समय अलर्ट पर रहता है। एटीसी टॉवर के नीचे सभी विमान कंपनियों के कार्गो बने हुए थे, जो विमानतल की सुरक्षा के लिए खतरा बन सकते थे। कार्गो होने के कारण वहा तक पहुंचना आसान हो जाता और सामान्य सामान की जगह कोई भी विस्फोटक सामग्री पहुंच सकती थी। चूंकि, एटीसी टॉवर के बिलकुल नीचे कार्गो बने हुए थे, इसलिए यदि वहां कोई गतिविधि की जाती तो एटीसी टॉवर पूरी तरह से ठप हो जाता। चूंकि, एटीसी के बिना विमानतल पर किसी भी विमान का उड़ान भरना और उतारना संभव नहीं है, इसको लेकर यह निर्णय लिया गया है। 

कमेंट करें
75Wio