comScore

नागपुर में फिर बदल रहा मौसम, कल से ठंड बढ़ने के आसार

नागपुर में फिर बदल रहा मौसम, कल से ठंड बढ़ने के आसार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। जबलपुर से नागपुर तक ट्रेन से सफर करने वालों के समय में बचत होगी। दपूम रेलवे की नई ब्राडगेज लाइन जबलपुर-गोंदिया-बल्लारशाह पूरी तरह से तैयार हो गई है। इसी माह के आखिर में इससे यात्री गाड़ियों का आवागमन किया जाने वाला है। हालांकि अभी तक नागपुर मंडल के पास इस तरह की कोई अधिकृत जानकारी नहीं पहुंची है, लेकिन सूत्रों की मानें तो नए साल की शुुरुआत में नागपुर से जबलपुर का सफर करने वाले यात्रियों को उपरोक्त नये मार्ग की सुविधा मिल सकती है। 

अभी 542 किमी का है सफर 
जबलपुर से नागपुर आने के लिए मध्य रेलवे की बड़ी लाइन से इटारसी होकर आना पड़ता है। 542 किलोमीटर के इस  सफर को तय करने में 8 घंटे से ज्यादा का समय लग जाता है,  लेकिन अब उपरोक्त नई ब्राडगेज के कारण ढाई घंटे तक समय की बचत होगी। जबलपुर से गोंदिया व गोंदिया से बल्लारशाह के लिए बनाई नई लाइन से नागपुर आने वालों को पहले गोंदिया का सफर 250 किमी तय करना होगा। यहां से नागपुर आने के लिए 130 किमी का सफर तय करना होगा। इस प्रकार 380 किमी का सफर साढ़े पांच से 6 घंटे में पूरा किया जा सकेगा। 

ट्रैक तैयार, आदेश का इंतजार
उपरोक्त ट्रैक बनकर तैयार है, लेकिन अभी यात्री गाड़ियों को इससे शुरू करने को लेकर विभाग स्तर पर कोई जानकारी नहीं आई है। ऐसे में ट्रेनों का आवागमन कब से होगा, यह कहना मुश्किल है। - अनुराग सिंह, डीसीएम, दपूम रेलवे नागपुर 

25 दिसंबर तक शुरू होने की संभावना
नई लाइन बनकर तैयार हो गई है। वर्तमान स्थिति में मालगाड़ियों का आवागमन शुरू हो गया है। हालांकि अभी तक इस लाइन से यात्री गाड़ियां चल नहीं सकी हैं। इसी महीने 25 दिसंबर तक शुरू करने की संभावना है। यह लाइन शुरू होने पर उत्तर से दक्षिण को जोड़ने वाला सबसे छोटा रेलमार्ग होगा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर ब्रॉडगेज पर सबसे पहले मेमू ट्रेन को हरी झंडी दिखाई जाएगी। पूर्व प्रधानमंत्री ने ही ब्रॉडगेज के सपने को आकार दिया था। अब उनके जन्मदिन पर इस ट्रैक का लोकार्पण किया जा सकता है। इस ट्रैक पर यात्री ट्रेन शुरू होते ही रायपुर, दुर्ग, नागपुर पहुंचना आसान हो  जाएगा।  

कमेंट करें
QV0Sp