comScore

छिंदवाड़ा: ठेकेदार बनकर पहुंची फारेस्ट की टीम, पेंगोलीन के शिकारियों को दबोचा- दो गिरफ्तार

July 12th, 2020 14:35 IST
छिंदवाड़ा: ठेकेदार बनकर पहुंची फारेस्ट की टीम, पेंगोलीन के शिकारियों को दबोचा- दो गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। वन विभाग की टीम ने वन्य प्राणी पेंगोलीन के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि एक आरोपी पकड़ से बाहर है। छिंदवाड़ा के वार्ड क्रमांक 18 कुंडीपुरा थाना अंतर्गत राजेन्द्र नगर में निवास करने वाले आरोपियों के पास से मृत पेंगोलीन, चार पंजे और प्रयुक्त किया गया बका जब्त किया गया है। 

वन विभाग की टीम ने आरोपियों को पकडऩे के लिए जाल बिछाया, जहां वन विभाग के कर्मचारी ठेकेदार बनकर इनके पास पहुंचे थे। वन अधिकारियों के अनुसार एक दिन पूर्व आरोपियों के पास ठेकेदार बनकर पहुंचे वन कर्मचारियों ने आरोपियों से निर्माण कार्य में मजदूरी करने के लिए कहा था। यहां पर आरोपियों ने काम करने की इच्छा जताई और अगले दिन बताने के लिए कहा।

इस बीच वन विभाग की टीम ने साक्ष्य जुटाते हुए इन आरोपियों की शिनाख्त कर शनिवार को इन्हें गिरफ्तार कर लिया। जहां आरोपी संतोष पिता होरीलाल वंशकार २९ वर्ष, शिवा पिता अशोक वाघमारे ३० वर्ष और दीपक पिता फूलवर मरकाम २२ वर्ष की पहचान हुई है।  यहां आरोपियों ने पूछताछ में बताया है कि आने वाले दिनों में पेंगोलीन के पंजों से तंत्र साधना में इसका उपयोग करने वाले थे। आरोपियों को पकडऩे में वन विभाग की टीम में वनपरिक्षेत्र अधिकारी एएसएस राजपूत, परिक्षेत्र सहायक सारना एनपी तिवारी, वनरक्षक अरुण सेंगर, वनरक्षक कपरवाड़ी रवि वर्मा, बीट सहायक मृणाल ठाकरे, वनरक्षक हरीश नागवंशी की भूमिका रही।

वायरल वीडियो से पहचान
पेंगोलीन के साथ आरोपी का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसके आधार पर वन विभाग ने आरोपियों की पहचान की। वनपरिक्षेत्र अधिकारी एसएस राजपूत ने बताया कि एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें आरोपी के हाथ में पहने हुए कड़े के जरिए पहचान हुई। यहां ठेकेदार बनकर पहुंचे वन विभाग की टीम ने पूछताछ के दौरान आरोपी की पहचान की है। श्री राजपूत ने बताया कि दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक फरार है जिसकी तलाश जारी है। इसके बाद और भी कई सुराग मिलने की संभावना है।

दो हिस्सों में पेंगोलीन
वनविभाग की टीम ने पेंगोलीन को दो हिस्सों में जब्त किया। यहां पर पेेंगोलीन के चार पंजे आरोपियों के पास जब्त मिले थे, वहीं मृत शरीर को आरोपी ने गड्ढे में छुपाकर रखा था।

कमेंट करें
Mxqj3