comScore

CM केजरीवाल ने कहा-अगर केन्द्र रोजाना 700 मैट्रिक टन ऑक्सीजन दें तो हम किसी को मरने नहीं देंगे

CM केजरीवाल ने कहा-अगर केन्द्र रोजाना 700 मैट्रिक टन ऑक्सीजन दें तो हम किसी को मरने नहीं देंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बुधवार को पहली बार केन्द्र की तरफ से 700 मी।टन ऑक्सीजन मिली है। उन्होंने इसके लिए पीएम मोदी का आभार जताया। दिल्ली सीएम ने कहा कि अगर केन्द्र सरकार से रोजाना 700 मी।टन ऑक्सीजन मिले तो हम राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की कमी से किसी को नहीं मरने देंगे।

केजरीवाल ने कहा, 1 दिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन से काम नहीं चलेगा, जब तक कोरोना के मामले कम नहीं हो जाते, हमें प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन चाहिए। जब दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी थी तो बहुत से अस्पतालों ने बेड की संख्या कम कर दी थी। सभी अस्पतालों से निवेदन है कि वे अपने बेड की संख्या बढ़ा लें और पहले जितने बेड थे, उतने बेड उपलब्ध कराएं।

केजरीवाल ने कहा, उम्मीद करते हैं कि अब हमें प्रतिदिन 700 टन ऑक्सीजन मिलेगी। दिल्ली में हम 35,74,000 वैक्सीन डोज़ दे चुके हैं। लगभग 28 लाख लोगों ने पहली डोज़ ली है, इनमें से 7,76,000 लोगों ने दोनों डोज़ ली हैं। 18-45 आयु वर्ग में 3 दिन के अंदर दिल्ली में लगभग 1,30,000 लोगों को वैक्सीन लगी है। 

कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर का सामना कर रही राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 19,133 नए मामलों की पुष्टि हुई है और 335 मरीजों की मौत हुई है।इतने ही समय में 20,028 मरीज ठीक हुए हैं।दिल्ली में अब तक 1273035 लोग संक्रमित हुए हैं और 18398 मरीजों की जान गई है। बुधवार को कोरोना के 20,960 नए मामलों की पुष्टि हुई थी और 311 मरीजों की जान चली गई थी।वहीं मंगलवार को संक्रमण के 19,953 नये मामले सामने आए थे और 338 मरीजों की मौत हो गई थी।

कमेंट करें
dirMj
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।