• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Chief Minister Thackeray reached to know the condition of the flood affected, said - take care of yourself, will help

दैनिक भास्कर हिंदी: बाढ़ प्रभावितों का हाल जानने पहुंचे मुख्यमंत्री ठाकरे, कहा- खुद को संभालें, पूरी मदद करेंगे

July 24th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरान किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार बाढ़ प्रभावितों की पूरी मदद करेंगे। सरकार उनके साथ है। सर्वाधिक अतिवृष्टि प्रभावित महाड के एक गांव में पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा कि आप लोग खुद को संभालो बाकी का काम हम पर छोड़ दो। उद्धव ने कहा कि राज्य सरकार इस आपदा का मुकाबला करने को तैयार है। इसके लिए केंद्र से भी सहायता मिल रही है। सेना और एनडीआरएफ ने लोगों की भरपूर मदद की है। 

मुख्यमंत्री शनिवार की दोपहर 2 बजे तलिए गांव पहुंचे। इस दौरान स्थानीय नागरिकों और प्रशासकिय अधिकारियों ने उन्हें दुर्घटना की जानकारी दी। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि अतिवृष्टि प्रभावितों को नुकसान भरपाई दिया जाएगा। उसका योग्य पुनर्वसन होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ों पर रहने वालों को स्थलांतरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पश्चिम महाराष्ट्र में भी कई नदियां उफान पर हैं। इसके लिए उपाय योजना किया जाएगा। पानी का नियोजना करने के लिए जल प्रारुप तैयार किया जाएगा। 

बाढ़ से 76 की मौत, 59 लोग अभी भी लापता
इस बीच राज्य सरकार की तरफ से बताया गया है कि राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 76 लोगों की मौत हुई है और 59लापता हैं। सर्वाधिक 47 लोगों की मौत रायगढ़ जिले में हुई है। जबकि अभी भी 53 लोग लापता हैं। सतारा में 25 लोगों को अपनी जान गवानी पडीहै।बाढ़ के बाद प्रशासन के पास एक बड़ी चुनौती यह है कि प्रभावित लोगों तक पेयजल, भोजन और दवाएं कैसे पहुंचाई जाएं। एनडीआरएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा-कई स्कूलों और कुछ निजी संपत्तियों का आश्रय के रूप में और घायलों के वास्ते प्राथमिक उपचार केंद्रों के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। वास्तविक चुनौती लापता लोगों को खोजना और उनके परिजनों का पता लगाना है। रत्नागिरी के रहने वाले राज्य के उच्च शिक्षामंत्री उदय सामंत ने पत्रकारों को बताया कि चिपलून शहर के कुछ इलाकों से पानी कम हो रहा है लेकिन कुछ इलाके अब भी जलमग्न हैं। विभिन्न बीमा कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ मैंने विशेष बैठक की है और उनसे कहा है कि कि संपत्ति के नुकसान और मानव जीवन की क्षति से संबंधित दावों की प्रक्रिया में तेजी लाएं।

सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए गए 84 हजार लोग
बारिश के चलते पुणे मंडल में 84,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे मंडल में भारी बारिश और नदियों के उफान पर होने के चलते 84,452 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इनमें 40,000 से अधिक लोग कोल्हापुर जिले से हैं। अधिकारियों ने बताया कि 54 गांव बाढ़ से पूरी तरह और 821 गांव आंशिक रूप से प्रभावित हुए हैं। 

खबरें और भी हैं...