दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र : सीएम के वाहनों ने तोड़ा है ट्रैफिक नियम, घर पहुंचा 13 हजार का ई-चालान

August 14th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। यातायात नियमों के उल्लंघन के बाद ई-चालान भेजे न जाने वाले नामों में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का भी नाम शामिल है। फडणवीस के काफिले में शामिल दो गाड़ियों पर 13 हजार रुपए का जुर्माना लगाते हुए ई चालान भेजा गया है, लेकिन इसका भुगतान नहीं हुआ है। यह जुर्माना बांद्रा वरली सी लिंक पर तय रफ्तार से अधिक गति से गाड़ी चलाने की वजह से लगा था। हालांकि इस बारे में ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि यह रफ्तार संबंधी यह नियम मुख्यमंत्री के काफिले पर लागू नहीं होता।

आरटीआई कार्यकर्ता शकील शेख ने एमपीटी एप के जरिए यह जानकारी हासिल किया है। शेख के मुताबिक जनवरी 2013 से अगस्त 2018 के बीच मुख्यमंत्री की दो गाड़ियों ने 13 बार निर्धारित रफ्तार से तेज गति से भागती हुईं कैमरे में कैद हुईं हैं। मुख्यमंत्री द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली गाड़ी नंबर एमएच 01 सीपी 0038 को आठ बार और गाड़ी नंबर एमएच 01 सीपी 0037 को पांच बार निर्धारित रफ्तार से ज्यादा पर चलने के लिए ई-चालान भेजा गया है। शेख के मुताबिक इससे न सिर्फ आम लोगों बल्कि खुद मुख्यमंत्री की जान को खतरा हो सकता है।

ई-चालान न भरने पर सवाल उठाते हुए शेख ने कहा कि अगर राज्य के मुखिया की गाड़ियां ही ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन कर रहीं हैं और जुर्माना भी नहीं भरा जा रहा है तो सामान्य लोगों से क्या उम्मीद की जाए। शेख ने सवाल उठाया है कि अगर ई-चालान भेजने के बाद लोगों ने जुर्माना नहीं भरा तो वसूली के लिए यातायात विभाग ने कोई ठोस कदम या कानूनी प्रक्रिया क्यों नहीं शुरू की। शेख ने यातायात विभाग के संयुक्त पुलिस आयुक्त को खत लिखकर 119 करोड़ रुपए का बकाया जल्द वसूलने और इसके लिए ठोस व्यवस्था बनाने की मांग की है।

रावते की सफाई
यातायात नियमों के उल्लंघन और जुर्माना न भरने वालों की सूची में अपना नाम आने पर परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने सफाई दी है। रावते ने कहा कि ई-चालान के बकाएदारों में मुख्यमंत्री ही नहीं मेरा भी नाम आया है लेकिन मैं कभी गाड़ी नहीं चलाता। शायद मेरे परिवार के किसी शख्स ने गाड़ी चलाते हुए नियमों का उल्लंघन किया होगा।

मुख्यमंत्री की गाड़ी ने कब तोड़े नियम

गाडी नंबर MH 01 CP 0038 

  • 12  जनवरी 2018 - चलान नंबर MTPCHC1800050440
  • 13  जनवरी 2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800052661
  • 25  अप्रैल  2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800371702
  • 28  अप्रैल  2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800404695
  • 20  मई  2018 -    चलान नंबर-MTPCHC1800529303
  • 21  मई  2018 -   चलान नंबर-MTPCHC1800534675
  • 23  मई 2018 -   चलान नंबर-MTPCHC1800547320
  • 31  मई  2018 -   चलान नंबर-MTPCHC1800599682

गाडी नंबर MH 01 CP 0037 

  • 22  अप्रैल 2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800362931
  • 28  अप्रैल 2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800397140
  • 21  मई 2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800436506
  • 3  जून  2018 - चलान नंबर-MTPCHC1800615306
  • 12  अगस्त 2018 चलान नंबर-MTPCHC18009112441

 

“ सुरक्षा के मद्देनजर यातायात से जुड़े ऐसे नियम मुख्यमंत्री के काफिले पर लागू नहीं होते। गाड़ियों पर नजर रखने वाले कैमरे तेज रफ्तार दर्ज करते ही खुद चालान जारी कर देते हैं, लेकिन इन्हें बाद में हटा दिया जाता है। इसलिए इस मामले में जुर्माना वसूलने का सवाल ही नहीं उठता”

- अमितेश कुमार, संयुक्त पुलिस आयुक्त, (यातायात)

खबरें और भी हैं...