दैनिक भास्कर हिंदी: सीएम फडणवीस की पत्नी ने किया MeToo का समर्थन, कहा- ग्रामीण क्षेत्रों में भी पहुंचे यह कैंपेन

October 17th, 2018

डिजिटल डेस्क, नाशिक। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने "मी टू कैंपेन का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि, बॉलीवुड और शहर की महिलाएं आगे बढ़कर आपनी आपबीती सुना रहीं हैं। इसमें सच और झूठ भविष्य में स्पष्ट होगा। लेकिन उन्हें सुनना जरूरी है। श्रीमती फडणवीस ने इस अभियान को ग्रामीण क्षेत्र में पहुंचाने की अपेक्षा जताई। अहिल्या फाउंडेशन की ओर से बुधवार को शहर के कालिदास कलामंदिर में आयोजित  सैनिटरी नैपकीन वितरण कार्यक्रम समापन के बाद श्रीमती फडणवीस ने पत्रकारो से चर्चा की।

उन्होंने कहा कि, "सर्व दलीय नागरिकों के समर्थन से यह कार्यक्रम चल रहा है। इसमें से महिला सबलीकरण से संंबंधित विषयों को बढ़ावा मिलेगा। मेरा मी टू  अभियान को पूरा समर्थन है। यह एक तूफान है। इसमें कुछ सत्य होगा तो उसकी भविष्य में जांच होगी। इसके द्वारा हो रहा मंथन अच्छी बात है। इस अभियान को ग्रामीण क्षेत्र में पहुंचाना चाहिए। महिलाओं को हर परिस्थिति का मुकाबला करने व सचाई का साथ देते हुए आगे बढ़ने का आह्वान भी उन्होंने इस अवसर पर किया।

नो पॉलिटिक्स

उल्लेखनीय है कि भाजपा के ही दिग्गज नेता व केंद्रीय मंत्री एम. जे अकबर पर मी टू के तहत लगे आरोपों पर फडणवीस से सवाल पूछा गया कि आरोप लगने के बाद भी उन्होंने अब तक पद से इस्तीफा नहीं दिया है। इस पर आपका क्या कहना है तो श्रीमती फडणवीस ने नो पॉलिटिक्स कहकर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया। 

समान अधिकार

अमृता फडणवीस ने कहा कि शबरीमाला मंदिर में प्रवेश का सभी को समान अधिकार है। इसलिए सभी लोगों को प्रवेश मिलना चाहिए। साथ ही महिलाएं और युवतियों बिना किसी झिझक के सैनिटरी नैपकिन खरीदें और इसका ही उपयोग करने का आह्वान उन्होंने  किया।   इस अवसर पर अहिल्या फाउंडेशन की पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे। कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं और युवतियों को सैनिटरी नैपकिन के फायदे पर भी इस अवसर पर मार्गदर्शन किया गया।