दैनिक भास्कर हिंदी: पांढुर्ना को जिला बनाने शिवराज ने दिया आश्वासन, कहा- अनुकूल परिस्थितियों पर निर्भर है कार्रवाई

September 21st, 2018

 डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा/पांढुर्ना। महाराष्ट्र से सटे पांढुर्ना को जिला बनाने का मुद्दा एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। संतरांचल के लोगों की मांग पर गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंच से कहा कि यदि अनुकूल परिस्थितियां दिखी तो पांढुर्ना को जिला बनाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इससे पहले प्रशासनिक रूप से अध्ययन कराया जाएगा। अपनी जनआशीर्वाद यात्रा के तहत मुख्यमंत्री शिवराज ने पांढुर्ना के एमपीएल ग्राउंड में जनसभा को संबोधित किया।  क्षेत्र की दूसरी बड़ी जरूरत कामठीकला जलाशय को लेकर उन्होंने कहा कि मुआवजे का वितरण शीघ्र किया जाएगा। इसके लिए राशि मिल गई है।

2008 में भी यही कहा था सीएम ने
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पांढुर्ना को जिला बनाने के संबंध में 13 अगस्त 2008 को भी की थी। उस समय पांढुर्ना के एमपीएल गाउंड में हुई सभा में मुख्यमंत्री ने कहा था कि यदि संभावनाएं बनी तो पांढुर्ना को जिला घोषित किया जाएगा। गुरुवार को दोबारा वही बात राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय बनी हुई है।कामठीकला जलाशय को लेकर उन्होंने कहा कि मुआवजे का वितरण शीघ्र किया जाएगा। इसके लिए राशि मिल गई है।

कमलनाथ ने कहा- बिना अध्ययन घोषणा सिर्फ नौटंकी
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व छिंदवाड़ा सांसद कमलनाथ ने कहा कि पांढुर्ना को जिला बनाने की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा सिर्फ नौटंकी है। उन्होंने कहा कि हालातों का अध्ययन किया नहीं गया, किस भी तरह की योजना बनाई नहीं गई और घोषणावीर मुख्यमंत्री ने घोषणा कर दी। श्री नाथ ने कहा कि पांढुर्ना को जिला बनाए जाने पर उसमें कौन-कौन से क्षेत्र आएंगे मुख्यमंत्री को यह पता नहीं। मुलताई की अपनी मांग है। सौंसर किसके साथ रहेगा। बिना अध्ययन के घोषणा करने वाले पहले की गई घोषणाओं का हिसाब दें। उन्होंने कहा कि यदि यह घोषणा सही है और पांढुर्ना को जिला बनाया जाता है तो वे इसका स्वागत करते हैं।

 

खबरें और भी हैं...