दैनिक भास्कर हिंदी: पार्सल में मंगाए रिसोट्‌टो चिकन और मशरूम में निकला कॉकरोच

June 24th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  अगर आपको होटल-रेस्टोरेंट का खाना पसंद है, तो जरा सावधान हो जाएं। साफ-सफाई के साथ ही स्वच्छ खाना परोसने का दावा भले ही किया जा रहा है, पर हकीकत में ऐसा नहीं है। जोमैटो एप के माध्यम से रामदासपेठ की रहने वाली महिला ने रिसोट्टो चिकन और मशरूम  ऑर्डर किया। सदर के जिंक (ZINQ) रेस्टोरेंट से इसका पार्सल भेजा गया। पार्सल खोला, तो उसमें चावल के बीच में कॉकरोच (तिलचट्टा) था। इसकी शिकायत रेस्टोरेंट के मैनेजर अशोक साने से की गई। उसने महिला से माफी मांगी और खाना वापस करने को कहा। 

कोरोना संक्रमण के कारण शहर में रेस्टोरेंट-होटल बंद हैं। सिर्फ होम डिलीवरी की ही इजाजत दी गई है। ऐसे में बड़े पैमाने पर लोग खाना ऑनलाइन ऑर्डर कर रहे हैं। इसके लिए तमाम लोग जोमैटो एप का उपयोग कर रहे हैं। इसके माध्यम से पसंदीदा रेस्टोरेंट से खाना पहुंचाया जा रहा है। इसी कड़ी में, सदर (फिदवी टावर के सामने) स्थित जिंक (किचन, बार, बिस्त्रो) से मंगाए गए रिसोट्टो चिकन और मशरूम में कॉकरोच निकलने का मामला सामने आया है। इस घटना ने ग्राहकों को परोसे जाने वाले खाने  की गुणवत्ता की पोल खोलकर रख दी है। इससे साफ है कि शहर के कुछ रेस्टोरेंट में साफ-सफाई का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। कोरोना संक्रमण के इस दौर में साफ-सफाई ही जरूरी है। उधर, जिंक रेस्टोरेंट में हुई घटना के बाद अन्न व औषधि प्रशासन विभाग के सहायक आयुक्त अभय देशपांडे ने बताया कि हम इस मामले की जांच कराएंगे।

कॉकरोच कहां से आया, समझ नहीं आ रहा
खाने में कॉकरोच कहां से आया, यह समझ नहीं आ रहा। किचन में साफ-सफाई का पूरा ख्याल रखा जाता है। कॉकरोच मिलने के बाद संबंधित ग्राहक का पैसा वापस कर दिया गया था। साथ ही, पूरे रेस्टोरेंट की साफ-सफाई फिर से कराई जा रही है। -अशोक साने, मैनेजर, जिंक रेस्टोरेंट
 

खबरें और भी हैं...