दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी-शाह की नीतियों के विरोध में प्रस्ताव को मंजूरी देगी कांग्रेस 

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपाध्यक्ष अमित शाह की नीतियों के विरोध में कांग्रेस की एक समिति काम कर रही है। उस समिति के प्रस्ताव को 2 अक्टूबर को कांग्रेस की कार्य समिति की बैठक में मंजूरी दी जाएगी। कांग्रेस कार्य समिति की बैठक सेवाग्राम वर्धा में होनेवाली है। उसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित सभी प्रमुख नेता उपस्थित रहेंगे। कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने सोमवार को विमानतल पर पत्रकारों से चर्चा में जानकारी दी। कार्य समिति की बैठक के सिलसिले में सेवाग्राम में पदाधिकारियों से चर्चा के लिए गहलोत यहां आए थे।

उनके साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशाेक चव्हाण भी उपस्थित थे। 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर कांग्रेस की ओर से शांति मार्च भी निकाला जाएगा। अंगरेजों के विरोध में भारत छोड़ों आंदोलन का निर्णय सेवाग्राम में ही लिया गया था। सेवाग्राम में 14 जुलाई 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन का प्रस्ताव पास किया गया था। फिलहाल कांग्रेस की कार्यसमिति की बैठक में कौन सा निर्णय लिया जाएगा,यह जानने की सभी में उत्सुकता है। कांग्रेस बुद्धिजीवी वर्ग के लोगों को भी शामिल कर रही है। 

एक दिन पहले पहुंच जाएंगे नेता
बताया जा रहा है कि कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में शामिल होने के लिए राहुल गांधी, सोनिया गांधी, मनमोहनसिंह सहित कांग्रेस के 70 प्रमुख नेता यहां आएंगे। 1 अक्टूबर को ही  प्रमुख नेता पहुंचने लगेंगे। राहुल गांधी, सोनिया गांधी भी एक दिन पहले पहुंच जाएंगे। बैठक के बाद कांग्रेस मोदी व शाह के विरोध में प्रचार का मोर्चा खोलेगी। कांग्रेस का मानना है कि केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद देश में सांप्रदायिक सौहार्द के माहौल का आघात पहुंच रहा है। भय का वातावरण बन रहा है। विपक्ष के साथ शत्रु जैसा व्यवहार किया जा रहा है। 

खबरें और भी हैं...