comScore

Corona virus in MP: भोपाल में 24 जुलाई रात 8 बजे के बजे से 10 दिन के लिए टोटल लॉकडाउन, दूध-सब्जियां मिलेंगी, लेकिन किराना दुकानें बंद रहेंगी

Corona virus in MP: भोपाल में 24 जुलाई रात 8 बजे के बजे से 10 दिन के लिए टोटल लॉकडाउन, दूध-सब्जियां मिलेंगी, लेकिन किराना दुकानें बंद रहेंगी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। कोरोना वायरस महमारी के कारण मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 25 जुलाई से 3 अगस्त तक टोटल लॉकडाउन की घोषणा की गई है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज (बुधवार, 22 जुलाई) शाम मीडिया को दिए बयान में कहा कि भोपाल में 24 जुलाई की रात 8 बजे से यानि 25 जुलाई की सुबह से लेकर 2 अगस्त तक के लिए 10 दिन लॉकडाउन लागू करने का फैसला लिया गया है। मध्यप्रदेश की राजधानी में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए ये फैसला लिया गया है। बता दें कि मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के एक दिन में 196 मामले सामने आए, जिसके बाद शहर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,867 हो गई है।

बता दें कि इससे पहले भोपाल में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रशासन ने 25 इलाकों में 24 जुलाई तक लॉकडाउन लागू करने का एलान किया गया था। वर्तमान में शहर में पहले ही दो दिन का साप्ताहिक लॉकडाउन लगा रहता है, जिसमें शनिवार और रविवार के दिन पूरा शहर बंद रहता है। भोपाल में 10 दिन के लॉकडाउन के दौरान दवाईयां, दूध, सब्जी वाले यानि गलियों में जाने वाले ठेले। इंडस्ट्रीज और सरकारी राशन की दुकानें खुले रहेंगे। बाकी पूर्ण रूप से लॉकडाउन रहेगा। भोपाल आने और जाने को प्रतिबंधित किया जाएगा। भोपाल आने-जाने वालों के लिए पहले के लॉकडाउन की तरह ही ई पास पर ही अनुमति मिल सकेगी।

एक दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज मिले
बता दें कि बुधवार को भोपाल में एक दिन में रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 196 संक्रमित मरीज मिले। मंगलवार को छोड़ दिया जाए तो ये लगातार सातवां दिन है, जब राजधानी में 100 ज्यादा केस मिले हैं। बुधवार को 54 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए। कोरोना संक्रमण से 143 मरीजों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं अब तक 3249 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं। वहीं कुल एक्टिव केस अब बढ़कर 1430 हो गए हैं। संक्रमण बढ़ने पर अवधपुरी थाना क्षेत्र की छह कालोनियों में 23 जुलाई को सुबह 8 बजे से 29 जुलाई की शाम को 8 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया है। इन छह कालोनियों को मिलाकर अब राजधानी में 31 इलाके पूरी तरह से लॉक कर दिए गए। यहां पर करीब 2.5 लाख आबादी घरों में कैद रहेगी। 

सरकारी राशन की दुकानों को 2 दिन में जुलाई का राशन देने के निर्देश 
सरकारी राशन की दुकानों को भी कहा गया है कि दो दिन के अंदर जुलाई माह का पूरा राशन सभी गरीबों के घर में पहुंच जाए। जहां पर नहीं बंटा है, वहां पर बांट दिया जाए और राशन हर गरीब के घर पहुंच जाए। सरकारी दफ्तर खुलेंगे और वहां पर केवल अधिकारी और उनका स्टॉफ रहेगा।

कमेंट करें
4REDQ