comScore

Coronavirus in MP: भोपाल में एक दिन में 78 केस मिले, राज्य में अब तक 10 हजार से ज्यादा संक्रमित और 427 लोगों की मौत

June 11th, 2020 04:35 IST
Coronavirus in MP: भोपाल में एक दिन में 78 केस मिले, राज्य में अब तक 10 हजार से ज्यादा संक्रमित और 427 लोगों की मौत

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 10 हजार को पार कर गई है। बीते 24 घंटों के दौरान 200 नए मरीज सामने आए हैं, वहीं मरने वालों की संख्या बढ़कर 427 हो गई है। वहीं बुधवार को भोपाल में 78 नए केस मिले। राजधानी में ये एक दिन में मिले सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज हैं। इससे पहले 8 जून को 60 केस मिले थे। 

अब भोपाल में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1958 तक पहुंच गई है। राजधानी में संक्रमण से 65 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, आज चिरायु अस्पताल से 32 और शासकीय होम्योपैथिक अस्पताल से 14 मरीज डिस्चार्ज हुए। अब तक 1401 मरीज स्वस्थ होकर घर भेज दिए गए हैं। कुल एक्टिव केस 489 हैं।

राज्य में अ​ब तक 10049 संक्रमित
स्वास्थ्य विभाग की ओर से बुधवार को जारी बुलेटिन के अनुसार, राज्य में मरीजों की संख्या 10049 हो गई है। इंदौर में 51 नए मरीज सामने आने के साथ कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 2881 हो गई है। भोपाल में 78 नए मामले सामने आने से मरीजों की संख्या 1958, उज्जैन में मरीजों की संख्या 745 हो गई हैं।

कोरोना संक्रमण से राज्य में अब तक 427 की मौत
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, राज्य में बीते 24 घंटों में सात मरीजों की मौत हुई है और बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 427 हो गई है। अब तक इंदौर में 161, भोपाल में 66 और उज्जैन में 64, बुरहानपुर में 19 लोगों की मौत हो चुकी है।

भोपाल के जहांगीराबाद में एक परिवार के 17 सदस्य पॉजिटिव 
नए केस में प्रदेश के सबसे बड़े हॉटस्पॉट जहांगीराबाद में एक ही परिवार के 17 सदस्य कोरोना पॉजिटिव आए। सी 21 मॉल में संचालित 108 एंबुलेंस सर्विस के 13 और कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले। इसके साथ 108 एंबुलेंस सर्विस में काम करने वाले संक्रमित कर्मचारियों की संख्या 19 हो गई। दो दिन पहले भी 6 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले थे। प्रियदर्शनी नगर में भी 8 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।

शराब की दुकानें खुलीं, मंदिर और देवालय अब भी बंद 
मंगलवार से शराब की दुकानें खोल दी गईं हैं, जिससे दुकानों के बाहर आधा किलोमीटर लंबी लाइनें देखने को मिलीं। शौकीन अपनी बारी के इंतजार में घंटों शराब लेने के लिए खड़े रहे। इधर, धार्मिक स्थल बंद रखे जाने पर विपक्ष ने सरकार की आलोचना की है। बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस पर शिवराज सरकार पर निशाना साधा है। 

कमेंट करें
y2Eu7